कानपुर : लेबर कालोनी टैक्स पर विधायक ने नगर विकास मंत्री से लगाई गुहार, मिला आश्वासन

कानपुर। श्रमिक कालोनियों पर हाउस टैक्स और वाटर टैक्स लगाए जाने के खिलाफ भाजपा विधायक सुरेन्द्र मैथानी ने नगर विकास मंत्री से गुहार लगाई। मंत्री अरविंद शर्मा को बताया गया कि श्रम विभाग की सरकारी कालोनियों से असंवैधानिक तरीके से टैक्स वसूलने के प्रस्ताव भेजने का काम किया है।विधायक ने तर्क दिया कि बिना स्वामित्व के श्रमिक कालोनियों पर नगर निगम द्वारा टैक्स लगाने का प्रस्ताव भेजना अनुचित है। इस पूरे मामले में मंत्री ने विधायक को उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया है।

बता दें कि नगर निगम के इस सत्र के आखिरी सदन में शहर की लेबर कॉलोनीयों पर टैक्स लगाए जाने के प्रस्ताव को पारित किया गया था। जो कि क्षेत्रीय विधायक मैथानी को नागवार गुजरी। जिसके चलते मंगलवार को लखनऊ जाकर विधायक मैथानी ने नगर विकास मंत्री को विरोध स्वरुप पत्र सौंपा। पत्र में मलिकाने हक़ मिलने तक टैक्स नहीं लिए जाने कि मांग की गई है। विधायक ने मन्त्री को बताया कि शास्त्री नगर कालोनी एशिया की सबसे बड़ी श्रमिक कॉलोनी है।जिसके स्वामित्व को लेकर पिछले लम्बे समय से मांग चल रही है।इस पर अभी तक किसी तरह का निर्णय नहीं हों सका। 

ऐसे में नगर निगम द्वारा लगाये गये टैक्स से विवाद खड़ा हो गया है। -कालोनियों के स्वामित्व पर शासन में निर्णय लंबित  विधायक मैथानी ने बताया कि उनके द्वारा सदन में याचिका लगाई गई है। सदन में इस विषय को उठाया जा चुका है।उन्होंने बताया कि कालोनिया का स्वामित्व श्रम विभाग के पास है।श्रम मंत्रालय के निर्देश पर कमिश्नर की अध्यक्षता में जनप्रतिनिधियों की एक कमेटी गठित हुई है।जिसकी बैठक अपरिहार्य कारणों से लंबित है। रिपोर्ट के बाद शासन द्वारा स्वामित्व के मामले का निस्तारण होना है।

Back to top button