बलिदान दिवस के रूप में मनी राजीव गांधी की पुण्यतिथि

अमेठी । भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी  की पुण्यतिथि अमेठी मे बलिदान दिवस के रूप मे मनाई गयी। जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय परिसर मे आयोजित कार्यक्रम मे जिला अध्यक्ष प्रदीप सिंघल ने कहा कि  पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी  ने विश्व पटल पर अमेठी की पहचान स्थापित की ।उन्होंने संचार क्रांति, आधुनिकता, ग्रामीण क्षेत्र विकास, पंचायती राज,18 वर्ष की  उम्र मे मताधिकार जैसे अधिकार लोगो को दिलाये ।

कार्यक्रम  मे राजीव गांधी की तमाम उपलब्धियों और देश की सशक्त नीतियों पर विस्तार से चर्चा की गई । लोगों ने कहा की यदि राजीव गांधी होते तो अमेठी के साथ ही पूरा देश आज वास्तव में सोने की चिड़िया कहलाता ।  जिला प्रवक्ता अनिल सिंह ने कहा कि राजीव जी पर चर्चा करने में अपनापन व विकास  की झलक दिखती है । राजीव गांधी को देखकर ही मेरे मन मे सेवा तथा राजनीति की प्रेरणा मिली,राजीव जी मेरे लिए पूज्य हैं आज उनकी शहादत दिवस पर देश संकट काल कोरोना से जूझ रहा है, सोशल डिस्टनसिंग का उल्लंघन न हो इसलिये कई अन्य कार्यक्रम नही हो पाये।


इस मौके पर पूर्व जिलाध्यक्ष योगेंद्र मिश्र,नरसिंह बहादुर सिंह,नरेन्द्र मिश्र,शत्रुहन सिंह,विनोद मिश्र,आई पी माली,अब्दुल लतीफ,परमानंद मिश्र,शशिकांत मिश्रा,रामबरन कश्यप, ताहिर फारूकी,शुभम सिंह,अवनीश मिश्र,सुनील वर्मा,आदित्य सिंह उपस्थित रहे। कांग्रेस नेता धर्मेन्द्र शुक्ला की अगुवाई मे अमेठी कांग्रेस कार्यालय और सगरा तिराहे पर स्वर्गीय राजीव गांधी की मूर्ति पर कांग्रेस जनो ने पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी औऱ अमेठी में किए गए उनके कार्यों को याद किया गया। इस दौरानराजीव गांधी अमर रहें, जब तक सूरज चांद रहेगा राजीव जी का नाम रहेगा के नारे भी लगाये गये।

Back to top button
E-Paper