मोहर्रम: जुलूस में दर्द भरे नौहों से माहौल हुआ गमजदा

भास्कर समाचार सेवा

मेरठ। मोहर्रम की पांचवी तारीख को शहर सहित जै़दी फार्म, लोहिया नगर में जुलूसों और मजलिसों का दौर जारी रहा। या हुसैन, या-अब्बास की सदाओं के बीच नौहेख्वानों ने दर्दभरे नौहों से माहौल को गमजदा कर दिया।

बुढ़ाना गेट स्थित इमाम बारगाह मोहम्मद अली खां से 4 बजे जुलजनाह का कदीमी जुलूस बड़ी अकीदत के साथ बरामद हुआ, जिसमें अमारियां ज़री, झूला हजरत अली असगर, अलम-ए-मुबारक शामिल थे। शहर सहित आस-पास से आए हुसैनी सौगवारों ने मातम करके इमाम हुसैन और शोहदाए करबला को खिराजे अकीदत पेश की। अन्जुमन फौजे हुसैनी जैदी फार्म सहित स्थानीय अंजुमने जुलूस में शामिल रहीं। अंजुमन इमामिया के वाजिद अली गप्पू, चांद मियां, मीसम, रविश तथा अन्जुमन दस्तए हुसैनी के साहिबे ब्याज, हुमायूं अब्बास ताबिश, ग़िजाल रज़ा, बिलाल आब्दी, तन्जीम-ए-अब्बास के सफदर हिन्दुस्तानी, अतीक-उल-हसनैन, काशिफ, दारेन जै़दी, जिया जैदी आदि नौहेख्वानों और रज़ाकारों ने मातम और नौहेख्वानी करके इमाम हुसैन की शहादत का मकसद बयां किया। दर्दभरी नौहेख्वानी की जुलूस अपने निर्धारित रास्तों से गुजरता हुआ देर रात्रि वापस इसी इमामबारगाह पहुंचा। जुलूस में मौहर्रम कमेटी के संयोजक अलहाज सैय्यद शाह अब्बास सफवी, डा. सरदार हुसैन, तालिब जैदी, जिया जैदी सहित बड़ी संख्या में हुसैनी सौगवार शरीक रहें। अली हैदर रिज़वी, हाजी शमशाद अली, नियाज़ हुसैन गूड्डू, हैदर अब्बास शामिल रहें। जुलूस के प्रबन्धक इकबाल हुसैन बिरादरान रहें। इस दौरान सुरक्षा के कड़े बन्दोबस्त रहें।

जैदी फार्म में जुलूस–
शाहिद हुसैन के अज़ाखाने में मौलाना सैयद अम्मार हैदर रिज़वी की तकरीर के बाद अलम-ए-मुबारक का जुलूस 3 बजे बरामद होकर दरबारे हुसैनी पुरानी कोठी पहुंचा। जुलूस में अन्जुमन जैदी फार्म फौजे हुसैनी के रजाकारों ने मातम व नौहेख्वानी की। बड़ी संख्या में हुसैनी सौगवार शरीक रहें। सुरक्षा का व्यापक प्रबन्ध रहा। मौहर्रम कमैटी के मीडिया प्रभारी अली हैदर रिज़वी ने बताया, शुक्रवार 2 बजे दरबारे हुसैनी जैदी फार्म में मजलिस के बाद अलम-ए-मुबारक बरामद होगा, जिसके आयोजक दिलबर जैदी हैं। शहर में छः मौहर्रम को इमामबारगाह तकी हुसैन बाजार पेड़ामल से 3 बजे जुलूस-ए-जुलजनाह बरामद होगा। 

गमे-हुसैन में मजालिसें
गुरुवार को भी अनेकों इमामबारगाहों, अजाखानों में मजालिसों का सिलसिला जारी रहा। जैदी नगर सोसायटी स्थित इमामबारगाह पंजेतनी में मौलाना सैयद अम्मार हैदर रिज़वी ने प्रातः 10 बजे इमामबारगाह दरबारे हुसैनी, जैदी फार्म में मौलाना नदीम असगर बनारस, रात्री में मौलाना अली रिज़वान बाराबंकी ने इमामबारगाह इश्तियाक हुसैन जैदी फार्म में रात्री 9 बजे तथा इमामबारगाह अबू तालिब लोहिया नगर में मौलाना अमीर आलम तथा शहर छोटी कर्बला में मौलाना अब्बास बाकरी हैदराबादी ने तथा इमामबाड़ा मनसबिया घण्टाघर में मौलाना मुर्तजा रज़ा, डा. सैयद इकबाल हुसैन सफवी के अज़ाखाने हुसैनाबाद में मौलाना सैयद गुलाम अब्बास बुकनाला सादात ने मजालिसों में खिताब करते हुए हजरत इमाम हुसैन और शौहदाये करबला की शहादत और अज़मत बयां की। 

Back to top button