लापरवाही: रेलवे ट्रैक पार कर रहे कांवड़िये की ट्रेन की चपेट में आने से मौत

नदरई स्थित अंडरपास में पानी भरे होने के कारण ओवरब्रिज पार कर रहा था मृतक।

भास्कर समाचार सेवा

कासगंज। पवित्र श्रावण मास में सोरों जी तीर्थ स्थल से भोले बाबा का जलाभिषेक करने कांवड़ लेकर जा रहे एक कांवड़िए ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई, जानकारी के मुताबिक नदरई रेलवे अंडरपास में बारिश का पानी भरा होने के कारण यह कांवड़िया रेलवे लाइन के ऊपर से गुजर रहा था, तभी ट्रेन की चपेट में आ गया।
घटना की सूचना मिलने के बाद भारी मात्रा में पुलिस फोर्स के साथ क्षेत्राधिकारी सदर डीके पंत और अपर जिलाधिकारी एके श्रीवास्तव मौके पर पहुंच गए, पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हाउस भिजवा दिया है।

आपको बता दें यह पूरा घटनाक्रम कासगंज एटा हाईवे पर नदरई रेलवे अंडरपास पर हुआ, मिली जानकारी के अनुसार मध्य प्रदेश के मुरैना का रहने वाला चरण सिंह अपने साथियों संग कावड़ भरने सोरों जी तीर्थ स्थल आया था।
वापसी में जब यह कांवड़िये वापस मुरैना लौट रहे थे तभी सदर कोतवाली क्षेत्र के गांव नदरई स्थित रेलवे अंडरपास मैं बारिश का पानी भरा होने के कारण रेलवे ट्रैक के ऊपर से गुजरने लगे।
बताया जा रहा है कि जिस समय मृतक चरण सिंह रेलवे लाइन पार कर रहा था उसी समय ट्रेन की चपेट में आ गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई, हादसे की खबर पर कासगंज जिला प्रशासन से अपर जिलाधिकारी एके श्रीवास्तव और अपर पुलिस अधीक्षक अनिल सिसोदिया भी मौके पर पहुंच गए।

रेलवे लाइन पर क्षत-विक्षत पड़े कांवड़िए के शव को पुलिस ने पंचनामा भरकर जिला अस्पताल के पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया है वही कांवड़िये की मौत के बाद लापरवाह जिला प्रशासन की नींद खुली है और जिला प्रशासन ने नदरई रेलवे अंडरपास के नीचे भरे पानी में कांवड़ियों के लिए ईटें बिछाकर फुटपाथ बनाने का काम शुरू भी कर दिया है।

एडीएम ए. के. श्रीवास्तव ने बताया कि मृतक के साथियों ने हादसे की सूचना उसके परिजनों को दे दी है, आगे से शिवभक्तों को कोई परेशानी ना हो इसलिए रेलवे अंडरपास के नीचे भरे पानी से बचाव के लिए ईटें बिछाकर कांवड़ियों के लिए फुटपाथ बनाई जा रही है।

Back to top button