धान क्रय केंद्रों पर तौल न किए जाने पर किसानों में आक्रोश

चित्र परिचय : विरोध प्रदर्शन करते क्षेत्रीय कृषक व ट्रस्ट के सदस्य

नानपारा तहसील/बहराइच। मां राजेश्वरी चैरिटेबल ट्रस्ट के द्वारा एक किसान सम्यक गोष्ठी का आयोजन कस्बा बाबागंज में किया गया। गोष्ठी में सरकारी रेट पर क्रय केंद्र पर तौल न किए जाने पर चिन्ता जताई गई। दलालों व बिचौलियों की मध्यस्थता से खरीदे जा रहे किसानों की फसल को रोकने पर विचार किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए क्षेत्र के अग्रणी कृषक राजाराम वर्मा ने बताया कि किसान अपनी फसल का लागत मूल्य भी नहीं पा रहा है। धान खरीद के सरकारी दावे हवा हवाई साबित हो रहे हैं। किसान 900 व 1000 रुपए में धान बिचौलियों व दलालों के हाथो बेचने को मजबूर है। सरकारी आदेश के बावजूद भी धान क्रय केंद्र बन्द पड़े हैं। स्वामीदयाल सरोज ने कहा कि अगर किसानों का शोषण हुआ तो सभी किसान आंदोलन के लिए बाध्य होंगे। कार्यक्रम का संचालन भारतीय किसान परिषद के अध्यक्ष एसपी सिंह ने किया। अंत में गोष्ठी में आए सभी कृषकों को कार्यक्रम में मौजूद मुख्य अतिथि महामंत्री विजय कुमार त्रिपाठी ने आश्वस्त किया कि सभी किसानों की समस्यायों को जिले के पदाधिकारियों से मिलकर शासन स्तर तक पहुंचाया जाएगा। गोष्ठी में मुख्य रूप से वरिष्ठ कृषक छेदा खां, लल्लन, नेकीराम पांडेय, महेश कुमार, मोहम्मद दस्तगीर आदि मौजूद रहे।

Back to top button
E-Paper