प्रधान संगठन ने खण्ड विकास अधिकारी को दिया ज्ञापन

प्रधानों का अनावश्यक उत्पीड़न कतई बर्दाश्त नहीं होगा – कौशल

भास्कर समाचार सेवा

महेवा/इटावा। महेवा ब्लाक मे कुछ प्रधानो पर प्रशासन द्वारा की जा रही 95(1) छ: की अनावस्यक कार्यवाही से छुब्ध होकर प्रधान संगठन की बैठक महेवा ब्लाक सभागार मे आयोजित की गयी मीटिंग मे प्रधान संगठन के पदाधिकारियो एवं 85 प्रधानो ने भाग लिया और प्रशासन की गलत नीतियो का कड़ा विरोध किया। और डीएम को सम्बोधित करते हुये खण्ड विकास अधिकारी को ज्ञापन दिया।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कौसल किशोर पान्डे प्रदेश अध्यक्ष ने कहा प्रधानो की विपक्षियों द्वारा आपसी रंजिशवश शिकायतें तो होती ही रहती है किन्तु अधिकारियो को चाहिये की उनकी सघन जांच करे और किसी प्रकार का कदम उठाये अन्यथा निर्दोष प्रधान के साथ की गयी कार्यवाही सहन नही की जायेगी यदि वेवजह किसी प्रधान को सताया गया तो प्रधान संगठन कतई बर्दाश्त नही करेगा।अगर किसी प्रकार का दोष सिद्ध होता है तो सचिव और प्रधान दोनो पर समान कार्यवाही होनी चाहिये जो नही की जाती है केवल प्रधान को ही बली का बकरा बनाया जाता है।
महेवा के प्रधानो ने डीपीआरओ को भी कटघरे मे खडा करते हुये बताया की डीपीआरओ द्वारा प्रधानो के साथ पक्षपात किया जा रहा वे ब्लाक कर्मचारियो से मिलकर प्रधानो का अदूरदर्शी दोहन कर अपना पेट भरने मे जुटे हुये है।और उनके अनुसार ना चलने पर कार्यवाही की धमकी भी दी जाती है।
जिलाध्यक्ष विजय प्रताप सिंह ने कहा कि अगर प्रधानो पर इसी प्रकार अत्यचार होते रहे और इस प्रकार की कार्यवाही वापस न ली गयी तो सभी प्रधान सामुहिक रुप से स्तीफा जिलाधिकारी को सोप देगे। वेवजह दवाब डालकर प्रधानो के कार्यो मे रोडा अटकया जाना ठीक नही है। इस अवसर पर डा राजेश सिंह चौहान जिला प्रवक्ता प्रधान संगठन इटावा, जिला महामन्त्री विकास कठेरिया, जिला उपाध्यक्ष सोम्हरि अवश्थी, जिला संगठनमन्री राजनीस शर्मा, कोषाध्यक्ष अमित भफौरिया, अरुण कुमार, सतेन्द् सिंह, पूनम चौहान, कृष्ण मुरारी, अजय सिंह विमल कुमार सन्तोष कुमार शिव चरन, गजेन्द्र सिंह रामकुमार आदि सेकड़ो की संख्या मे प्रधान उपस्थित रहे।

Back to top button