बिहार के सारण में संदिग्ध अवस्था में सात की मौत, जानिए क्या है पूरा मामला

पटना । बिहार में सारण जिले के मकेर, भेल्दी, परसा एवं अमनौर थाना के सीमावर्ती क्षेत्र यानी मकेर थानाक्षेत्र के फुलवरिया गांव के भट्ठा टोला में सात लोगों की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई जबकि 10 अन्य लोगों के बीमार होने की सूचना है। इनमें से पांच को पीएमसीएच पटना जबकि अन्य पांच लोगों को बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल छपरा भेजा गया है।

गुरुवार की सुबह से ही सभी की तबीयत खराब होने लगी। स्थानीय स्तर पर उपचार के बाद कई लोगों को पीएमसीएच रेफर किया गया था। वहां ले जाने के ठीक पहले चंदन महतो की मौत हो गई। उनके स्वजन ने दाह संस्कार कर दिया जबकि मकेर थाना के फुलवरिया भाथा नोनिया टोली गांव के कमल महतो की मौत पटना के रास्ते में हो गई। इसी तरह मकेर थाना के फुलवरिया भाथा नोनिया टोली गांव के ओमनाथ महतो, सकलदीप महतो, धनीलाल महतो और चंदेश्वर महतो की पटना में इलाज के दौरान मौत हो गई। राजनाथ महतो ने इलाज के दौरान भेल्दी के निजी क्लीनिक में दम तोड़ा। अन्य बीमार लोगों का इलाज पटना एवं छपरा सदर अस्पताल में चल रहा है।

प्रभावित क्षेत्र गांव में अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सोनपुर/मढौरा के साथ एएलटीएफ टीम एवं प्रशासनिक पदाधिकारी, उत्पाद विभाग की टीम अन्य पुलिस पदाधिकारी संयुक्त रूप से अग्रतर कार्रवाई के तहत छापामारी रहे हैं। साथ ही सिविल सर्जन एवं मेडिकल की टीम भी प्रभावित गांव/क्षेत्र में कैंप किए हुए हैं।

प्रभावित की पहचान के लिए घर-घर सर्वे किया जा रहा है। इलाजरत लोगों के स्वास्थ्य की निगरानी रखी जा रही है एवं कोई अन्य प्रभावित है या नहीं इस संबंध में भी पता लगाया जा रहा है। स्वयं जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक सारण घटनास्थल पर पहुंचकर स्थिति एवं व्यवस्थाओं पर पैनी नजर बनाए हुए हैं। डीएम सारण एवं पुलिस अधीक्षक सारण के संयुक्त आदेश से विशेष सर्वेक्षण दल का गठन कर डोर टू डोर बीमार व्यक्तियों की खोज की जा रही है। इस कार्य में जीविका की दीदियों, कल्याण विभाग एवं आईसीडीएस विभाग के पदाधिकारी गणों एवं कर्मी गणों की सहायता ली जा रही है।

Back to top button