सीतापुर : आंगनबाड़ी केंन्द्रों को गोद लेने की हो प्राथमिकता

सीडीओ ने की पोषण अभियान की मासिक समीक्षा बैठक

सीतापुर। मुख्य विकास अधिकारी अक्षत वर्मा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जिला पोषण अभियान की मासिक समीक्षा बैठक सम्पन्न हुयी। बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी ने गोद लिये गये आंगनबाड़ी केन्द्रों की जानकारी ली तथा निर्देश दिये कि जिन अधिकारियों द्वारा आंगनबाड़ी केन्द्र गोद लिया गया है उन केन्द्रों का नियमित रूप से निरीक्षण करते रहें तथा अधिक बच्चों की संख्या वाले आंगनबाड़ी केन्द्रों को प्राथमिकता पर गोद लिया जाये। उन्होंने कहा कि जिन-जिन केन्द्रों में बच्चों की अधिक संख्या है उसकी सूची तैयार कर लें तथा जिन अधिकारियों की ड्यूटी इन केन्द्रों में लगायी गयी थी, उनका स्थानान्तरण हो गया है उनका नाम सूची से हटाते हुये सूची अद्यतन की जाये।

मुख्य विकास अधिकारी ने निर्देश दिये कि निरीक्षण के दौरान अधिकारी यह देख लें कि मानक के अनुरूप बच्चों को पोषण सामग्री उपलब्ध करायी जा रही है इसकी क्रास चेकिंग भी करते रहें। उन्होंने निर्देश दिये कि जिन-जिन केन्द्रों में विद्युतीकरण नही हुआ है उसका बाहरी व आन्तरिक विद्युतीकरण करा दिया जाये तथा शौचालयों की स्थिति की भी जानकारी ली एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों में वितरण हेतु संसाधन जैसे वितरित की जाने वाली पुस्तकें, पोषाहार, विद्युत पंखे, खिलौनें आदि के बारे में जानकारी ली। उन्होंने संबंधित को निर्देश देते हुये कहा कि राशन वितरण रजिस्टर बनाकर उसमें वितरित हुये राशन का डाटा अंकित कर दिया जाये। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि जो भी निरीक्षण करें वह मानक के अनुरूप ही करें तथा यह भी देख लें कि आंगनबाड़ी केन्द्र नियमित रूप से संचालित हो रहा हो। यदि यह पाया जाता है कि कोई आंगनबाडी केन्द्र नियिमत रूप से संचालित नही हो रहा है तो उसकी रिपोर्ट त्वरित प्रस्तुत करें ताकि लापरवाही बरतने वाले कर्मचारियों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जा सके। उन्होंने निर्देश दिये कि सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों में मूलभूत सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित की जाये। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकत्री घर-घर जाकर कुपोषित बच्चों का चिन्हीकरण करें तथा उससे बचाव के उपाय की जानकारी से उनके अभिभावकों को अवगत करायें।

बैठक के दौरान जिला विकास अधिकारी हरिशचन्द्र प्रजापति, जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज राय, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अजीत कुमार, उपायुक्त श्रम एवं रोजगार सुशील कुमार श्रीवास्तव, जिला समाज कल्याण अधिकारी हर्ष मवार, जिला पंचायत राज अधिकारी मनोज कुमार सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Back to top button