सीतापुर : नहीं कोई सुनने वाला तो ग्रामीणों ने ब्लाक में जड़ा ताला

-लगातार गुहार लगाने के बाद भी नहीं जागे अफसर तो ब्लाक गेट में लगा दिया ताला

सकरन-सीतापुर। विकासखंड बिसवां की ग्राम पंचायत बेलझरिया में मिर्जापुर रोड और गाँव के अंदर विगत कई महीनों से हो रहे जलभराव से त्रस्त दर्जनों गांव की महिलाओं ने दो दिन पूर्व तहसील का घेराव करने बाद भी समस्या से निजात न मिलने पर मंगलवार को बिसवां ब्लाक के मुख्य द्वार पर ताला जड़ दिया और जलभराव की समस्या से निजात न मिलने तक प्रदर्शन जारी रखने की चेतावनी दी। ग्रामीण महिलाओं नमिता मिश्रा अनामिका, रेखा राजरानी, राजेश्वरी, मायावती, रामबेटी, सीमा, नंदरानी इत्यादि ने बताया कि उनके गांव के अंदर और रास्ते पर भीषण जलभराव बना रहता है और गंदा पानी घरों में प्रवेश करता जिससे संक्रामक रोग से ग्रषित होने की संभावना बढ़ रही है। 

ग्रामीणों को निकलना दुश्वार हो गया है। आए दिन राहगीर गिरकर चोटिल होते रहते हैं। आने-जाने वालों बच्चों को स्कूल जाने में भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। जानकारी को की विगत दो दिनों पूर्व गाँव मे जलभराव की समस्या को लेकर महिलाओं ने तहसील सभागार का घेराव किया था जिस पर तहसीलदार अबिचल प्रताप सिंह ने मौके पर पहुचकर समस्या से रूबरू हुए थे और बीडीओ बिसवां को ग्रामीणों को इस जलभराव की समस्या से निजात दिलवाने के निर्देश दिए थे किंतु दो दिनों में कोई हल निकलने और इसके लिए कोई सार्थक प्रयास न करने से नाराज ग्रामीण महिलाओ ने ब्लाक सभागार में एकत्रित हो गयी और मुख्य द्वार बंद कर प्रदर्शन करने लगी। 

जानकारी पर बीडीओ ऐश्वर्य यादव, एडीओ पंचायत अम्बिका प्रसाद, प्रभारी निरीक्षक मनीष कुमार सिंह, पंचायत सेक्रेटरी ग्राम प्रधान एवं अन्य ब्लाक कर्मी मौके पर पहुच गए थे। मामले को लेकर बीडीओ बिसवां ऐश्वर्य यादव ने बताया कि तहसील से राजस्व कर्मियों की टीम आ रही है जेसीबी बुलाकर जल्द ही समस्या का निदान किया जाएगा।

Back to top button