सीतापुर : गांवों में चोरों को लेकर मचता शोर, जागते हुए बीत रहीं रातें

-महोली इलाके में चोरों का आतंक, कब होगा अंत

-चोरी को लेकर खौफ के साए में जी रहे ग्रामीण

– कस्बे में हुई लाखों की चोरी की गांवों में हो रही चर्चा 

महोली-सीतापुर। पिछले कुछ महीनों से महोली इलाके में चोरों की सक्रियता पटल पर नजर आने लगी है। गांवों में रोजाना चोर को लेकर शोर मचता था। यहां तक कि अपने सामान की हिफाजत के लिए लोग रात जाग कर व्यतीत कर रहे हैं। शुरुआत में लोगों इसे महज अफवाह मान रहे थे। वहीं गुरुवार की रात कस्बे के मास्टर कॉलोनी में चोरों ने एक घर को निशाना बना कर लाखों रुपयों पर हाथ साफ कर सनसनी मचा दी है। एक तरफ जहां पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठ रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ लोगों का पुलिस से भरोसा उठ गया है। जिसकी सबसे बड़ी वजह है चोरी के खुलासे न होना। खुलासा होना तो तो दूर की बात है। पुलिस चोरों का सुराग तक लगाने में विफल रही।

ऐसा लगता है महोली इलाके में चोरों के कई गिरोह सक्रिय हैं। चोर इतने शातिर हैं वारदात को अंजाम देने के बाद अदृश्य हो जाते हैं। जबकि महोली पुलिस सारी रात गश्त होने का दावा करती है। चोरों के आतंक से क्षेत्रवासी खौफ के साए में जी रहे हैं। कुसैला-बीहटगौर जाने वाले मार्ग से कई गांवों के लिए संपर्क मार्ग गुजरे हैं। ऐसे गांवों में रोजाना देररात चोरों को लेकर शोर मचता है। अपने घर की रखवाली करने के लिए लोगों की आंखों से नीद गायब है। लोगों में इतनी दहशत है कि सारी रात जाग कर गुजार रहे हैं। गुरुवार की देररात महोली में हुई लाखों की चोरी की चर्चा गांवों में जंगल में आग की तरह फैल गयी। गांवों में जगह-जगह लोग चोरी की चर्चा में शामिल देखे जा सकते हैं। वहीं लोगों की जुबान पर बस एक ही बात आ रही है। आखिर 

चोरों के आतंक का कब अंत होगा?

केस-1 इलाके के चतुरैया, चवबेगमपुर व कारीपकर गांव में एक ही रात में चोरों ने लाखों की चोरी की थी। ये वारदात जुलाई माह में हुई थी। जिसका अभी तक खुलासा नही हुआ।

केस-2 कस्बे के मास्टर कॉलोनी निवासी राजकिशोर शुक्ल, कृष्णा कुमार मिश्रा व सुधाकर के यहां भी चोर लाखों का माल समेट ले गए थे। जिसका खुलासा होना तो दूर की बात है। पुलिस चोरों का सुराग तक लगाने में नाकाम रही।

केस-3 चोरों ने पीरपुर गांव निवासी सुरेश के घर को निशाना बनाकर चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। काफी समय बीत जाने के बाद भी पुलिस चोरों तक नही पहुंच सकी है। पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोर बेखौफ होकर घटना को अंजाम दे रहे हैं।

केस-4 कस्बे के गुजिया लाइन निवासी छोटे के यहां भी चोरी की वारदात हुई थी। पुलिस चोरों का सुराग तक नही लगा सकी। जिससे चोरों के हौसलें बुलंद हैं। वहीं मोहल्लेवासी खौफ के साये में जी रहे हैं।

Back to top button