अलीगढ़ में प्रदेश का पहला एंटी रेबीज क्लीनिक खुला

भास्कर समाचार सेवा

अलीगढ़। प्रदेश का पहला एंटी रेबीज क्लीनिक पंडित दीनदयाल उपाध्याय जिला संयुक्त चिकित्सालय में खोला गया है। गुरुवार को निदेशक संचारी रोग एवं वी.बी.डी डॉक्टर एके सिंह ने फीता रेबीज क्लीनिक का शुभारंभ किया। एडी हेल्थ डॉ. वीके सिंह, नोडल अधिकारी डॉ. देवेंद्र वार्ष्णेय व सीएमओ डॉ नीरज त्यागी, एवं सीएमएस डॉ. अनुपम भास्कर समेत सभी चिकित्सा अधिकारियों को इस पहल के लिए बधाई दी गई। वहीं अस्पताल का जायजा लेते हुए अस्पताल पहुंचने पर एडी हेल्थ व सीएमओ ने गुलदस्ता देकर निदेशक डॉ. एके सिंह का स्वागत किया।
डॉ. एके सिंह ने बताया कि यह पिछले एक वर्ष में पूरे प्रदेश में प्लान कर रहे थे। कुत्तों के काटने के मरीजों का टीका दीनदयाल उपाध्याय जिला संयुक्त चिकित्सालय में लगता था। साथ ही बताया जाता था कि कुत्ते काटने वाली जगह को साबुन से धोना है। लोग लापरवाही करते थे टीका लगने के बाद भी छह माह व एक साल में उन्हें रैबीज हो जाता था। इसी क्रम में शासन की पहल पर जनपद में रैबीज क्लीनिक की स्थापित हुई है। रैबीज एक ऐसा वायरस है जो आमतौर पर जानवरों के काटने से फैलता है। यह एक जानलेवा रोग है। इस कारण यह बीमारी ज्यादा खतरनाक होती है। अगर लोग सतर्क रहें तो आसानी से बच सकते हैं। डॉ. वीके सिंह (एडी हेल्थ) अपर निदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण। इस मौके पर नोडल अधिकारी डॉ. देवेंद्र वार्ष्णेय व मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. नीरज त्यागी, जिला महामारी रोग विशेषज्ञ डॉ. शोएब अंसारी, शैलेन्द्र तोमर फार्मासिस्ट, डॉ. मुकुल भारद्वाज व सी-फार के प्रतिनिधि आदि मौजूद रहे।

Back to top button