सुलतानपुर : गांव की नालियां हुईं चोक, बरसात में संक्रमण का बढ़ा खतरा



कूरेभार-सुलतानपुर। जहां एक तरफ वैश्विक महामारी कोबिड 19 के संक्रमण से देश अभी पूरी तरह उबर नहीं पाया है, तथा सरकार द्वारा साफ सफाई को लेकर विशेष निर्देश जारी किया जा रहा है। वहीं क्षेत्र में सफाई कर्मियों की अपने कर्तव्यों के प्रति उदासीनता के चलते गांवों में संक्रमण बढ़ने का खतरा बढ़ता जा रहा है। सरकार के निर्देशों से इनको कोई फर्क नहीं पड़ता। इनकी लापरवाहियां इतनी बढ़ती जा रही हैं कि, ये अपने क्षेत्र के गांवों में साल साल भर नहीं देखे जाते। कितने लोगों को तो अपने गांव में कौन सफाई कर्मी नियुक्त है पता ही नहीं।


वहीं दूसरी तरफ ये अपने बिभाग से मिली भगत कर साल में एक दो बार दिहाड़ी मजदूरों को पकड़ कर नाम मात्र साफ सफाई करवा कर खानापूर्ति कर देते है, और गांव कस्बों के चौराहों पर राजनीति करते नजर आते हैं। विकासखंड कूरेभार के गांव पुरखीपुर, जियापुर, तकिया, रुषहा मठिया, जमोली, कादीपुर, सैदखानपुर, निदूरा आदि दर्जनों गांवों का यही हाल है। बजबजाती तथा कूड़ों से पटी नालियां पूरी तरह से जाम हो चुकी हैं। जिससे बरसात का पानी जमा हो जाता और संक्रमण का खतरा काफी बढ़ जाता है। आये दिन ग्रामीणों द्वारा विभाग के अधिकारियों से इसकी शिकायत की जाती है, लेकिन अधिकारियों/ कर्मचारियों के ऊपर इसका कोई असर नहीं दिखता।

Back to top button