समाजवादी पार्टी में अब तक का सबसे बड़ा ऐक्शन, अखिलेश यादव ने सभी इकाइयों को किया भंग

लखनऊ में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को मिल रही हार के चलते एक्शन मूड में नजर आए हैं. उन्होंने पार्टी की सभी इकाइयों को भंग कर दिया है.

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लगातार मिल रही हाल के बाद एक बड़ा कदम उठाया है. इसी कड़ी में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रविवार को समाजवादी पार्टी के सभी फ्रंटल संगठनों व मोर्चा प्रकोष्ठ ओं को तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया है. इस कार्यवाही में सिर्फ समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल बच गए हैं. इसकी जानकारी समाजवादी पार्टी के टि्वटर हैंडल से दी गई है. अब आने वाले कुछ दिनों में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव नए सिरे से पार्टी संगठन के पदों व फ्रंटल संगठनों के पदों पर नए कार्यकर्ताओं को मौका देंगे.

समाजवादी पार्टी के टि्वटर हैंडल से एक पोस्ट शेयर की है. जिसमें लिखा है ‘सभी युवा संगठनों, महिला सभा, अन्य सभी प्रकोष्ठों के राष्ट्रीय अध्यक्ष, प्रदेश अध्यक्ष, जिला अध्यक्ष सहित राष्ट्रीय, राज्य, जिला कार्यकारिणी भंग की जाती है.’

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को विधानसभा चुनाव 2022 में मिली करारी हार के बाद यह पहली कार्यवाही है. पिछले काफी समय से वह लगातार संगठन में कार्यवाही को लेकर पार्टी नेताओं से फीडबैक ले रहे थे. उपचुनाव में समाजवादी पार्टी को करारी हार मिली और 2019 के चुनाव में इन दोनों सीटों पर जीत होने के बावजूद चुनाव हार गए. तभी उन्होंने सभी फ्रंटल संगठनों को भंग करने की कार्यवाही की है.

समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के पद पर पिछले काफी समय से नरेश उत्तम पटेल काबिज हैं. फिलहाल नरेश उत्तम पटेल पर इस तरह की कोई भी कार्यवाही नहीं हुई है. समाजवादी पार्टी के सूत्रों के अनुसार अखिलेश यादव आने वाले कुछ दिनों में उपचुनाव की समीक्षा करेंगे. इसके साथ ही सभी फ्रंटल संगठनों और राज्य कार्यकारिणी के पदों पर नए ऊर्जावान युवा चेहरों को जिम्मेदारी देने के बारे में फैसला करेंगे.

Back to top button