मुकदमें में खेल करने वाले चर्चित दरोगा का चेहरा बेनकाब

भास्कर ब्यूरो

बिजनौर। रंगदारी न देने पर युवती की वीडियों वायरल करने के मांमले में दरोगा मीर हसन द्वारा आरोपियों से मोटी रकम लेकर मुकदमें में एफआर लगाने का आरोप लगाते हुए पीडिता ने आला अधिकारियों से शिकायत की थी। शिकायत का संज्ञान लेते हुए एसपी दिनेश सिंह ने मुकदमे की फिर से विवेचना करने के क्राइम ब्रांच को आदेश दिए है। मुकदमें की फिर से विवेचना शुरु होने से जहां पीडिता को न्याय की उम्मीद जगी है वही आरोपियों व उनके मददगार दरोगा मीर हसन की उल्टी गिनती शुरु हो गई। है। नगीना थाना क्षेत्र के ग्राम कल्याणपुर निवासी कुमारी शगुफ्ता अंजुम ने आलाधिकारियों सहित प्रदेश के मुख्यमंत्री को भेजे शिकायती पत्र में कहा था कि उसके परिवार का जमीन के हिस्से को लेकर विवाद चल रहा है। पीडिता का आरोप था कि मुकदमे में फैसले का दबाव बनाने के लिए 29 मई की सुबह उसके घर पहुंचकर आरोपी प्रधानपति दिलशाद अंसारी, नौशाद उर्फ भूरा, राकेश, सईदुदीन, रियासत उर्फ अमित शाह, जमील पुत्र रफीक, लियाकत, अफजाल ने दो लाख रुपए रंगदारी न देने पर अगले दिन उसको बदनाम करते हुए उसकी तरफ से उसके दादा पर छेडछाड व बलात्कार का मुकदमा दर्ज करने की झूठी वीडियो प्रसारित कर दी। पीडिता ने न्यायालय के आदेश पर नगीना थाने पर धारा 147, 386, 504, 506 आईपीसी में मुकदमा दर्ज कराया था। पीडिता का आरोप है कि 06 जुलाई22 की शाम मुकदमे की विवेचना कर रहे दरोगा मीर हसन घटना स्थल न पहुंचकर गांव में आरोपी के मोहल्ले में पहुचें और वहा एक आरोपी नौशाद के हाथो से कोल्ड डिंªक पीने लगे जब पीडिता ने दरोगा मीर हसन को घटना के बारे जानकारी देनी चाही तो दरोगा आग बबूला हो गए और आरोपियों के सामने ही उसे अपमानित करना लगे और बाद में दरोगा मीर हसन ने आरोपियों से मोटी रकम लेकर उसके बिना बयान लिए ही मुकदमे में फाईनल रिपोर्ट लगा दी। पीडिता की शिकायत व मीडिया की खबरों का संज्ञान लेते हुए एसपी दिनेश सिंह ने मुकदमे की फिर से विवेचना करने के लिए क्राइम ब्रांच बिजनौर को आदेश दिए है। थाना प्रभारी निरीक्षक प्रिंस शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि नगीना थाना से इस मुकदमें का अब कोई संबन्ध नही रहा अब पूरे मुकदमें की शुरु से विवेचना क्राइम ब्रांच द्वारा की जाएगी। मुकदमें की फिर से विवेचना शुरु होने से जहां पीडिता को न्याय की उम्मीद जगी है वही आरोपियों व उनके मददगार दरोगा मीर हसन की उल्टी गिनती शुरु हो गई है।

Back to top button