प्रेमी जोड़ों के जिद के आगे झुका परिवार, थाने परिसर में ही दोनों पक्ष के परिवारों ने करवाई शादी

विरोध कर रहे हैं माता-पिता ने दिया आशीर्वाद

आजमगढ़। फिल्म मुगले आजम का गाना ‘जब प्यार किया तो डरना क्या’ उस समय पूर्णतया चरितार्थ हो गया, जब प्रेमिका के घर वालों के ने प्रेमी के खिलाफ थाने में तहरीर दे दी, पुलिस द्वारा दोनों पक्षों को थाने में बुलाया गया तो थाने पहुंची प्रेमिका ने प्रेमी से विवाह करने की जिद ठान ली। थाना परिसर में प्रेमी और प्रेमिका के परिजनों के बीच पुलिस द्वारा की गई पहल के बाद अन्ततः परिजन राजी हो गये और प्रेमी-प्रेमिका ने एक दूसरे के गले वरमाला डालकर अपने जीवन की नई शुरूआत कर दी।

बताते चलें कि गंभीरपुर थाना क्षेत्र के बिसया गांव निवासी सौरभ कुमार व माला दोनों एक ही गांव के निवासी हैं। एक वर्ष पूर्व दोनों में प्रेम हुआ और प्रेम धीरे-धीरे परवान चढ़ने लगा। दोनों एक साथ जीने मरने की कसमें खाने लगे। शुक्रवार की सुबह माला के परिजन गंभीरपुर पुलिस को सौरभ कुमार के खिलाफ तहरीर दी जिस पर गंभीरपुर पुलिस ने दोनों पक्ष को थाने पर बुलाया। काफी देर तक चली बातचीत में दोनों पक्ष शादी के लिए राजी हो गए। उसके बाद देर शाम पुलिस चौकी परिसर में बने मंदिर में ईश्वर को साक्षी मानकर सौरभ व माला ने एक दूसरे को वरमाला पहनाई और सिंदूरदान हुआ। परिवार के लोगों ने वर-वधू को आशीर्वाद दिया।

Back to top button