VIDEO : किसानों के हुड़दंग में 83 पुलिसवाले हुए घायल, कानूनी कार्रवाई की तैयारी में पुलिस

नई दिल्ली
कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों की ट्रैक्टर रैली मंगलवार को काफी हंगामेदार रही। कई स्थानों पर किसान निर्धारित रूट्स से बाहर ट्रैक्टर लेकर निकले। कई जगहों से तोड़फोड़ की खबरें आईं। पुलिस और किसानों के बीच झड़प भी हुई और पुलिस ने लाठीचार्ज किया। दिल्ली पुलिस के मुताबिक, प्रदर्शनकारियों से झड़प में पुलिस के 83 जवान घायल हुए हैं, जिनमें से 45 को ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है।

दिल्ली पुलिस के जॉइंट कमिश्नर (ईस्टर्न रेंज) आलोक कुमार ने आरोप लगाया कि किसानों ने काफी उग्र तरीके से ये रैली की थी। इस पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। वहीं दिल्ली के पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने किसान प्रदर्शनकारियों से शांति का रास्ता अपनाने की अपील की और कहा कि वे निर्धारित रूट्स से ही वापस लौटें। श्रीवास्तव ने कहा कि मंगलवार को कृषि कानून के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन के मद्देनजर कई दौर की बैठकों के बाद ट्रैक्टर रैली का रूट और समय फाइनल किया गया था लेकिन किसान निर्धारित रूट से बाहर भी ट्रैक्टर लेकर गए और निर्धारित समय से पहले लेकर गए।

कई जगहों पर तोड़फोड़ः पुलिस
श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदर्शनकारियों ने कई जगहों पर तोड़फोड़ की, जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हुए। सार्वजनिक संपत्तियों को भी नुकसान पहुंचा है। वहीं जेसीपी आलोक कुमार ने बताया कि किसान नेताओं के साथ बातचीत में रूट निर्धारित किए गए थे लेकिन मंगलवार सुबह 9:30 बजे एक गुट ने बैरिकेड तोड़ने की कोशिश की और गाजीपुर बॉर्डर के पास पहली झड़प पुलिस के साथ हुई। पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की लेकिन काफी उग्र तरीके से ट्रैक्टरों को पुलिसकर्मियों के ऊपर चढ़ाने की कोशिश की गई। कुमार ने कहा कि रैली के दौरान व्यापक पैमाने पर तोड़फोड़ और नुकसान किया गया है। काफी उग्र तरीके से ये रैली की गई है। इस पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Back to top button
E-Paper