कर्नाटक में ये क्या हो रहा : नकाबपोश हमलावरों ने युवक को बेरहमी से पीटा, फिर चाकू घोंपा

कर्नाटक के मंगलुरु में गुरुवार शाम कुछ नकाबपोश हमलावरों ने एक युवक को बेरहमी से पीटा और फिर चाकू से हमला कर दिया। युवक गंभीर रूप से घायल हो गया और अस्पताल ले जाते समय उसकी मौत हो गई। मृतक की पहचान मंगलपेटे निवासी मोहम्मद फाजिल के रूप में हुई है।

गुरुवार शाम हुई घटना के बारे में पुलिस कमिश्नर ने बताया कि सुरथकल इलाके में फाजिल की हत्या तब हुई, जब वो कपड़े की दुकान के बाहर अपने परिचित से बात कर रहे थे। चार लोग कार से आए और उस पर हमला किया। चारों लोगों ने चेहरे को ढंक रखा था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फाजिल पुलिस का इंफॉर्मर था। हत्या के बाद सुरथकल, मुल्की, बाजपे, पनाम्बुर में धारा 144 लगाई गई है, ताकि कोई हिंसक घटना न घटे। तीन दिन पहले दक्षिण कन्नड़ में भाजपा कार्यकर्ता प्रवीण नेट्टार की भी कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी गई थी। इस हत्या के बाद से ही दक्षिण कन्नड़ में प्रदर्शन जारी है।

BJP नेता की हत्या के मामले में 2 गिरफ्तार
फाजिल की हत्या उस वक्त हुई, जब मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई भाजपा युवा विंग के नेता प्रवीण नेट्टार के परिजनों से मिलने उनके घर गए थे। बोम्मई ने प्रवीण के परिवार को सरकार की ओर से 5 लाख और पार्टी की ओर से 25 लाख रुपए का मुआवजा दिया है। प्रवीण भाजपा युवा मोर्चा के जिला सचिव थे। उनकी हत्या के केस में दो लोगों को गुरुवार को गिरफ्तार किया गया है। 21 लोग अभी हिरासत में हैं, जिनसे पूछताछ जारी है। ये सभी लोग PFI से संबंधित हैं।

कर्नाटक में योगी मॉडल, बुलडोजर एक्शन की डिमांड

मुख्यमंत्री बोम्मई ने गुरुवार को कहा कि हालात ऐसे ही रहे तो सरकार राज्य में सांप्रदायिक तत्वों से निपटने के लिए उत्तर प्रदेश के योगी मॉडल को लागू करेगी। सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने वाली ताकतों को खत्म करने में कुछ चुनौतियां हैं। यह चुनौती देशभर के राज्यों में मौजूद है और इस तरह की ताकतों ने पिछले 10 वर्षों में कर्नाटक में अपना सिर उठाया है। इसे हम खत्म करके ही रहेंगे।

भाजपा नेता की हत्या के बाद कर्नाटक में कई कार्यकर्ता और विधायक मांग कर रहे हैं कि सरकार सामाजिक अशांति पैदा करने और सांप्रदायिक तनाव फैलाने वाले लोगों के घरों पर बुलडोजर चलाने जैसी कार्रवाई करे। बोम्मई इसी संबंध में पूछे गए सवाल का जवाब दे रहे थे।

प्रवीण की पत्नी बोलीं- हत्यारों को फांसी हो
भाजपा नेता प्रवीण की हत्या को लेकर दक्षिण कन्नड़ में तनाव जारी है। यहां कार्यकर्ता बेहद गुस्से हैं। हत्या का शक PFI के टेरर मॉड्यूल पर है। केंद्रीय मंत्री शोभा करंदलाजे ने गृहमंत्री अमित शाह को लेटर लिखकर पूरे मामले की जांच NIA से कराने की मांग की है। प्रवीण की पत्नी ने मांग की है कि हत्यारों को हर हाल में फांसी की सजा मिलनी चाहिए।

प्रवीण की हत्या के बाद भाजयुमो में लगातार इस्तीफा
प्रवीण की हत्या के बाद भाजपा युवा मोर्चा के पदाधिकारियों के इस्तीफे जारी हैं। चिकमगलुरु और बागलकोट के भाजपा युवा मोर्चा के पदाधिकारियों ने अपनी ही पार्टी के नेताओं की उदासीनता का विरोध करते हुए अपने पदों से इस्तीफा दे दिया था। मैसूर, हसन, कोप्पला, तुमकुरु और अन्य जिलों के युवा मोर्चा के पदाधिकारियों ने भी गुरुवार को पद से इस्तीफा दे दिया।

Back to top button