Yogi Government 2.0 : 100 दिन में कितने लक्ष्य हुए पूरे, जानें योगी सरकार का रिपोर्ट कार्ड

5 जुलाई यानी मंगलवार को योगी सरकार 2.0 के 100 दिन पूरे हो रहे हैं। इससे पहले सोमवार को योगी सरकार अपने इन 100 दिनों का लेखा-जोखा जनता के सामने रख रही है। लोक भवन के बाद लोक नृत्य के जरिए जश्न जैसा माहौल पेश किया गया। लोक भवन में सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम बृजेश पाठक, वित्त मंत्री सुरेश खन्ना समेत मंत्री और विधायक पहुंचे।

योगी सरकार के रिपोर्ट कार्ड के मेन पाइंट में 100 दिन में 525 एनकाउंटर हुए, 62 माफिया की 284 करोड़ की संपत्ति जब्त होना रहा। ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के जरिए 80 हजार करोड़ का निवेश करवाया। धार्मिक स्थलों से 74400 लाउउस्पीकर हटवाए गए। फ्री राशन योजना को 3 महीने के लिए आगे बढ़ाया गया।

लाइव अपडेट

  • योगी सरकार 2.0 पर सीएम योगी ने 100 दिन का बुक लॉग का विमोचन किया।
  • यूपी में हुए विकास कार्यों पर शॉर्ट फिल्म भी दिखाई गई।
  • आजमगढ़ और रामपुर के लोकसभा उप चुनाव में भाजपा के ही प्रत्याशी जीते।
  • 25 मार्च 2022 को हमारी सरकार ने प्रदेश के अंदर शपथ ग्रहण किया।
  • यूपी में 37 वर्ष के बाद ऐसा हुआ कि यूपी में कोई सरकार 5 साल का कार्यकाल पूरा कर सके।
  • पहली बार यूपी के इतिहास में सीएम ने कार्यकाल पूरा किया।
  • पूर्ण बहुमत के साथ 100 दिन की उपलब्धियों में जो कहा, सो किया के साथ फिर से मैं आपके बीच आया हूं।
  • हमने वो दस सेक्टर चुने, जिस पर कार्ययोजना बनाकर यूपी अर्थव्यवस्था को 1 ट्रिलियन डालर तक पहुंचा सके।
  • हर सेक्टर के लिए एक सीनियर अधिकारी की नियुक्त किया।
  • 18 मंत्री समूहों ने 18 कमिश्नरेट में 72-72 घंटे कैंप किया।
  • जनता के बीच चौपाल किया। विकास कार्यों को भौतिक रूप से दखा।
  • पहली बार ई-पेंशन की योजना लागू हुई।
  • 2017 से पहले यूपी के सामने पहचान का संकट था। केंद्र सरकार की कई योजनाएं लागू की गई, लेकिन राज्य सरकार की इच्छा शक्ति नहीं दिखती थी।
  • 5 सालों में कानून व्यवस्था को हमने बेहतर किया। जिसका संदेश पूरे देश में गया। अब यहां निवेश बढ़ रहा है।
  • अपराध और अपराधियों के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति का असर हुआ है।
  • पुलिस के संरक्षण में कोई गलत काम नहीं हुए। 76 हजार से ज्यादा अवैध पार्किंग स्थल हटवाए गए।
  • धर्मस्थलों से 1.20 लाख लाउडस्पीकर हटवाए गए। इनमें वो भी शामिल हैं, जिनका ध्वनि प्रदूषण को कम कराया गया।
  • अब सड़कों पर सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं होते। अब अलविदा की नमाज सड़क पर नहीं होगी।
  • ईद और राम नवमी के कार्यक्रम सड़क पर प्रदर्शन का माध्यम नहीं बने।
  • राज्य में अग्निशमन केंद्र हर तहसील में बनाया जा रहा है।
  • 5 सालाें में प्रदेश की जीडीपी और प्रति व्यक्ति आय में​​​​​​ 2 गुने की वृद्धि हुई है।
  • यूपी में डेटा सेंटर बनाने का हब बन रहा है। यूपी में डेटा सेंटर नीति लागू की।
  • डिजिटल इंडिया के युग में 15 हजार करोड़ से 4 नए डेटा सेंटर बनाए जा रहे हैं।
  • इससे 4 हजार नौजवानों को जॉब्स मिल सकेंगी।
  • पहले बजट में 97 संकल्प शामिल किए। उन्हें पूरा किया।
  • सीएमआई के ताजा डेटा 2017 में बेरोजगारी दर 18 प्रतिशत थी। अब वो 2.9 प्रतिशत रह गया है।
  • एक्सपोर्ट 1 लाख 56 हजार करोड़ का है। इससे रोजगार बढ़ा है।
  • 3 जून को पीएम मोदी ने लखनऊ आकर औद्योगिक विकास की नई नींव रखी
  • 5 लाख प्रत्यक्ष और 20 लाख अप्रत्यक्ष रोजगार देने के लिए 80 हजार करोड़ से उद्यम लगाए जा रहे है।
  • गृह विभाग की तरफ से 10 हजार नौकरियों का टारगेट पूरा किया।
  • 17 लाख टैबलेट ओर मोबाइल युवाओं को दिए गए।
  • स्पोर्ट में अच्छा प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को राजपत्रित पदों पर रखा रहा है।
  • 400 रोजगार मेले लगाए हैं। युवाओं को मदद मिली है।
  • मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना में 1 लाख नई बालिका जोड़ी गई। 13.68 लाख बालिका को फायदा मिल रहा है।
  • महिला स्वयं सहायता समूह को रिवोल्विंग फंड के जरिए 400 करोड़ का लोन दिया।
  • किसानों के हमने बहुत मजबूती से काम किए। सिंचाई के दायरे को 21 लाख हेक्टेयर का विस्तार दिया गया।
  • होली-दिवाली पर मुफ्त सिलेंडर का तोहफ़ा दे रही है।
  • आवासीय अभिलेख 11 लाख ग्रामीणों को आवास के प्रपत्र सौंपे गए।
  • बुदेलखंड एक्सप्रेस-वे बनकर तैयार है। अगले हफ्ते पीएम नरेंद्र मोदी उद्घाटन करने वाले है।
  • बलिया लिंक एक्सप्रेस-वे को भी हमने आगे बढ़ाया है।
  • 12 हजार करोड़ का गन्ना भुगतान किसानों को दिया गया है।
  • एयर कनेक्टिविटी को बढ़ाया है। 2017 में 2 एयरपोर्ट सक्रिय थे। आज 9 एयरपोर्ट सक्रिय हैं, 10 पर काम चल रहा है।
  • वन महोत्सव के कार्यक्रमों से हम जुड़े हैं। कल ही 25 करोड़ के पौधा रोपण का लक्ष्य हम हासिल कर सके।
  • 15 अगस्त को देश की आजादी का अमृत महोत्सव होगा। तब हर गांव में 75-75 पौधे लगाएंगे।
  • जलवायु संरक्षण के लिए पालिथीन पर रोक लगाई है।
  • 108 एंबुलेंस का रिस्पांस टाइम कम किया। एंबुलेंस की संख्या भी हमने बढ़ाई है।
  • यूपी के परंपरागत उत्पाद जी-7 में यूपी में शामिल देशों के बड़े नेताओं को गिफ्ट देकर वैश्विक पहचान दिलाने की दिशा में कदम बढ़ाया।

अब आपको 12 बड़े कामों के बारे में बताते हैं…

1. डबल स्पीड से चला बुलडोजर
यूपी के 50 बड़े माफिया की पहचान करके एक्शन लिया गया। इन माफिया के गुर्गों में अब तक 896 के खिलाफ कार्रवाई की गई। 405 के खिलाफ FIR हुई है। इनकी अवैध संपत्तियों पर बुलडोजर चलाया गया है।

2. GBC-3 में 80 हजार करोड़ का निवेश
यूपी की इकॉनामी को एक ट्रिलियन की अर्थव्यस्था बनाने के लिए ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी GBC-3 का आयोजन कराया। दावा किया गया कि इस सेरेमनी में देश-दुनिया के निवेशक शामिल हुए। 80 हजार करोड़ से ज्यादा का निवेश किया गया।

3. जॉब के लिए रोजगार मेले
100 दिन में 10 हजार भर्ती का टारगेट रखा था। इस अवधि में अकेले साढ़े नौ हजार भर्तियां अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को करनी थी। 940 भर्तियां हो सकी। श्रम विभाग के रोजागार मेला से 50 हजार से ज्यादा युवाओं को जॉब के अवसर मुहैया कराए गए।

4. पांच नए एयरपोर्ट के लिए हुआ करार
100 दिन के अंदर 5 नए हवाई अड्डों के संचालन एवं प्रबंधन के लिए AAI और प्रदेश सरकार के बीच MOU साइन हुआ। इनमें अलीगढ़, आजमगढ़, चित्रकूट, श्रावस्ती और सोनभद्र शामिल हैं। अब जल्द ही यूपी के 5 और शहरों से उड़ान शुरू होने की उम्मीद है।

6. धार्मिक स्थलों से हटाए गए लाउडस्पीकर
योगी सरकार ने 100 दिन के अंदर ही धार्मिक स्थलों से 74,700 लाउडस्पीकर हटवाए। जिनमें से 17,816 स्कूल में दिए गए। इतना ही नही अपराधियों और माफिया से 844 करोड़ की अवैध संपत्तियां भी जब्त की गई।

7. MSME सेक्टर की नई नीति नहीं बनी
प्राथमिकता MSME सेक्टर की नई नीति के जरिए जॉब दिलाने की थी। टारगेट सेट हुए। 1.90 लाख MSME इकाइयों को 16 हजार करोड़ के लोन बांटे गए। दावा रहा कि 4 लाख लोगों को जॉब भी मिलीं। MSME की नई नीति लागू नहीं हो सकी।

8. दवाई और डॉक्टरों का इंतजार खत्म नहीं
अस्पतालों में सुविधाएं बढ़ी हैं। दवाई और डॉक्टरों का इंतजार खत्म नहीं हुआ है। डिप्टी सीएम बृजेश पाठक के दौरे में खामियां भी सामने आईं।

9. बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे पर कैरेज वे शुरू नहीं हुआ
बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे पर यूपीडा को इन्हीं 100 दिनों के अंदर मुख्य कैरेज वे को चालू कराना था। लेकिन अब तक ये काम नहीं हो सका। अब नई डेट लाइन 12 जुलाई है।

10. 84 पुल ही बने
लोक निर्माण विभाग को 100 पुल बनाने थे। 84 ही बनाए जा सके। आवास विकास विभाग भी सेट टारगेट को हासिल करने में पिछड़ गया।

11. गन्ना किसानों का बकाया चुकाया
सरकार ने गन्ना किसानों का एक लाख 74 हज़ार करोड़ रुपए गन्ना मूल्य का भुगतान किया है। पिछले विधानसभा चुनाव में गन्ना किसानों का बकाया बड़ा मुद्दा बना हुआ था।

12. योगी सरकार सीधे जनता के द्वार
सीएम योगी ने सरकार बनते ही टारगेट सेट किया। सीएम ने 18 मंत्रियों के समूह बनाकर उन्हें जनता के बीच जाने के लिए कहा। मंत्री कम से कम 2 जिलों का दौरा करेंगे। वो जनता की समस्याओं को जानेंगे। फिर उन्हें दूर कराने की कोशिश करेंगे।

तस्वीरों में देखिए लोक भवन का जश्न

  

Back to top button