बहराइच : नानपारा में नशीले पदार्थों के सेवन में उलझी युवा पीढ़ी

क़ुतुब अंसारी/शकील अंसारी
 बलहा ( बहराइच ) नानपारा एवं आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में नशीले पदार्थों की बिक्री तेज हो गई है  चलते फिरते लोग स्मैक की पुड़िया बेच रहे हैं और पीने वाले लोग उन्हें ढूंढ कर ले लेते हैं वैसे तो यह चलती फिरती दुकान वर्षों  से चल रही है थी किंतु पूर्व कोतवाल और चौकी इंचार्ज राजा बाजार ने काफी दबिश दी थी दर्जनों को जेल भेजा गया था जिसके बाद कम हुआ था अधिकारी बदलने के बाद कारोबार करने वाले लोगों के हौसले बुलंद हुए और जगह-जगह स्मैक की बिक्री चोरी छुपे हो रही है नशे का सबसे बड़ा कारोबार शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में इंटीरियर इलाकों में खुले मेडिकल स्टोरों पर हो रहा है जहां पर नशीली टेबलेट नशीली खांसी की सिरप और इंजेक्शन धड़ल्ले से बेचे जा रहे हैं कफ सिरप के नाम पर अगर जांच की जाए तो आबादी से ज्यादा यहां पर कफ सिरप की बिक्री हो रही है
मानव पूरा शहर बीमार हो और खास रहा हो l ऐसे में ड्रग इंस्पेक्टर और सीएमओ पर उंगली उठना लाजमी है इस संबंध में यदि जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव कोई ठोस कदम उठाएं तो नशीले पदार्थों के सेवन से नानपारा की युवा पीढ़ी बर्बाद होने से बच जाएगी युवा किस घर का है क्या मालूम एक युवा दूसरे युवा को नशे में उलझा कर बर्बाद कर रहा है ऐसे में दिन प्रतिदिन नए  नशा करने वाले लोग बढ़ते जा रहे हैं
नानपारा क्षेत्र के जागरुक नागरिकों ने जिला अधिकारी से मांग की है कि नशीले पदार्थों की मेडिकल स्टोरों पर हो रही बिक्री एवम स्मैक  और गांजे की बिक्री  पर पूर्णतया प्रतिबंध लगाया जाए जिससे देश का भविष्य कहे जाने वाले युवा बर्बाद होने से बचें l
Back to top button
E-Paper