ट्रैक्टर परेड: क्या इन लोगों की वजह से भड़की दिल्ली में हिंसा की आग?

नई दिल्ली। गणतंत्र परेड के बाद ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। अब हिसां को लेकर सिंधु बॉर्डर के किसानों ने बड़ा दावा किया है। सिंधु बॉर्डर पर जमे किसानों का कहना है कि दोआबा किसान संघर्ष समिति के दीप सिद्धू और लक्खा सिधाना ट्रैक्टर रैली के लिए रवाना होने से पहले युवाओं को लाल किला और इंडिया पहुंचने के साथ हिंसा के लिए उकसाया था। इस समिति में दो गुट हैं और दोनों ने मिलकर हिंसक घटना को अंजाम दिया। जानकार के मुताबिक दीप सिंधु और लक्खा सदाना विधानसभा चुनाव लड़ना चाहता है।

अर्द्धसैनिक बलों की 15 कंपनियां तैनात

आपको बता दें कि 26 जनवरी पर ट्रैक्टर रैली में हिंसा के बाद से दिल्ली में अर्द्धसैनिक बलों की 15 कंपनियों को तैनात कर दिया गया है। देर रात आंदोलनकारियों से लाल किला खाली करा लिया गया। उपद्रव में 83 पुलिसकर्मी घायल हो गए। ट्रैक्टर पलटने से एक प्रदर्शनकारी की मौत हो गई। इस मामले में अब तक 7 एफआईआर दर्ज हुई हैं। हिंसा में शामिल लोगों के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई जारी है ।

Back to top button
E-Paper