फिरोजाबाद में BJP नेता की हत्या के आरोप में मुख्य आरोपित सहित 3 गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में भारतीय जनता पार्टी के नेता की हत्या के मुख्य आरोपित समेत 3 लोगों को हिरासत में लिया गया है। शुक्रवार (अक्टूबर 16, 2020) रात अपराधियों ने दुकान बंद कर घर जा रहे बीजेपी नेता दयाशंकर गुप्ता की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

फिरोजाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP) सचिंद्र पटेल ने जानकारी देते हुए बताया, “वारदात के मुख्य आरोपित सहित तीन लोग गिरफ्तार किये गए हैं। पुलिस सभी आरोपितों से पूछताछ कर रही है।” शुक्रवार रात हुई इस घटना से इलाके में हड़कंप मचा हुआ है। घटना के बाद गुस्साए व्यापारियों ने जाम लगा दिया ।

Loading...

यह घटना टूंडला विधानसभा की है। यहाँ थाना नारखी क्षेत्र के नगला बीच निवासी 42 वर्षीय दयाशंकर गुप्ता की परचून की दुकान है। वह बीजेपी के मंडल उपाध्यक्ष भी हैं। शुक्रवार रात करीब 8 बजे वह दुकान बंद कर रहे थे। तभी एक बाइक पर सवार तीन बदमाश आए और तमंचे से उन पर गोली दाग दी। गोली बीजेपी नेता के सीने में जाकर लगी, जिससे वह लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़े। नेता को आनन-फानन में अस्पताल में ले जाया गया, जहाँ डॉक्‍टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

बीजेपी नेता की मौत की खबर लगते ही नगला में व्यापारियों ने एकत्र होकर जाम लगा दिया। घटना की जानकारी होते ही एसपी सिटी मुकेश चंद्र मिश्रा समेत कई थानों का फोर्स मौके पर पहुँच गया। पुलिस ने किसी तरह समझा-बुझाकर जाम खुलवाया। परिजनों ने बताया कि उपचुनाव के लिए बीजेपी प्रत्याशी के नामांकन से वापस लौटने के बाद दयाशंकर अपनी दुकान पर बैठे थे। दुकान बंद करते समय हमलावरों ने वारदात को अंजाम दिया।

फिरोजाबाद के भाजपा नेता की गोली मारकर हत्या के बाद आगरा के रामरघु हॉस्पिटल में भी हंगामा हुआ। भाजपा नेता की मौत के बाद परिजन और समर्थको ने जमकर हॉस्पिटल के बाहर हंगामा किया। आगरा के एम जी रोड पर जाम लगाने का प्रयास हुआ। एसपी सिटी पुलिस बल के साथ मौके पर मौजूद रहे। पुलिस ने आक्रोशित लोगों को समझाने का प्रयास किया। भाजपा नेता को गोली लगने के बाद आगरा के रामरघु हॉस्पिटल में रैफर किया गया था।

वहीं, घटना के पीछे प्रधानी की रंजिश बताई जा रही है, जिसमें डीके गुप्ता द्वारा 2015 में प्रधानी चुनाव लड़ा गया था। इस दरम्यान इनका अन्य विरोधी गुट से झगड़ा भी हुआ था। बताया जाता है कि दबंगों ने 2 दिन पूर्व दयाशंकर को जान से मारने की धमकी भी दी थी और शुक्रवार को इस घटना को अंजाम दिया गया। बताया जा रहा है कि इस बार भी मृतक डीके अपने गाँव में प्रधानी का चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे। उनके जीतने की पूरी उम्मीद थी। इस लिए भी आरोपितों द्वारा मारने की आशंका जताई जा रही है।

गौरतलब है कि इससे पहले उत्तर प्रदेश के बागपत जिले में मॉर्निंग वॉक पर निकले पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष संजय खोखर की हत्या कर दी गई थी। तीन अपराधियों ने इस वारदात को अंजाम दिया और फिर फरार हो गए। संजय खोखर को तीन गोलियाँ लगी थी, जिसके बाद मौके पर ही उनकी मौत हो गई।

Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker