कौशाम्बी बर्ल्ड फ्लू से बचाव के लिए 09 टीमे गठित

गांव व कस्बों में स्थित पोल्ट्री फार्मों, कुक्कुट पालन करने वालों को बीमारी से बचाव करने के लिए प्रशिक्षित एवं जागरूक करेंगी सरकार


*कौशाम्बी* मुख्य विकास अधिकारी शशिकांत त्रिपाठी की उपस्थिति में शुक्रवार को कलेक्टेट स्थित सम्राट उदयन सभागार में बर्ल्ड फ्लू से बचाव के सम्बन्ध में टास्क फोर्स की बैठक आयोजित की गयी। बैठक में उन्होेंने बताया कि जनपद में बर्ल्ड फ्लू से बचाव के लिए 09 टीमे गठित की गयी है, जो गांव व कस्बों में स्थित पोल्ट्री फार्मों, कुक्कुट पालन करने वालों को इस बीमारी से बचाव करने के लिए प्रशिक्षित एवं जागरूक करेंगी। इस अवसर पर जिला पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 वीपी पाठक ने बताया कि कुक्कुट पालन व पोल्ट्री फार्मो के आस-पास साफ-सफाई बनाये रखनेे के साथ-साथ पोल्ट्री फार्मो में चमकीली पन्नी लगवायें जिसकी चमक से प्रवासी पक्षी आस-पास न आ सकें।

उन्होंने यह भी बताया है कि जनपद में कुल 80 पोल्ट्री फार्म हैं जिनका निरीक्षण किया जा रहा है। पोल्टरी फार्म संचालकों को यह भी निर्देशित किया गया है कि पोल्ट्री फार्मों के पास चूना एवं दवाओं का छिड़काव करायें, साथ ही साथ पक्षियों के मरने की सूचना तत्काल जनपद मुख्यालय में बर्ल्ड फ्लू से बचाव के लिए बनाये गये कन्ट्रोल में सूचना अवश्य दें।

उन्होंने लोगों से अपील किया कि मांस को अधिक तापमान पर पकाकर ही खायें, जिससे इसके वायरस से बचाव किया जा सकता है। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जिन अधिकारियों एवं कर्मचारियों की बर्ल्ड फ्लू में ड्यूटी लगायी गयी है वे लोग किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरते समय से अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करें, यदि इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही हुई तो संबंधित अधिकारियों एवं कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाही की जायेगी। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी श्री मनोज, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 पीएन चतुर्वेदी सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारीगण उपस्थित रहे। 

Back to top button
E-Paper