कोलकाता में बरसने लगे 2000 और 500 के नोट, मालामाल हुए राहगीर-देखे ये VIDEO

 

Loading...

कोलकाता । अमूमन लोग आसमान से रुपयों की बारिश होने के सपने देखते हैं लेकिन राजधानी कोलकाता में बुधवार को कई लोगों का यह सपना साकार हो गया।

बड़ाबाजार के वेंटिकन स्ट्रीट में दोपहर के समय सड़क किनारे से गुजरने वाले लोगों के शरीर पर अचानक ऊपर से रुपये गिरने लगे। पहले तो लोग चकित थे और विश्वास नहीं हो रहा था लेकिन बंडल के बंडल जब रुपये गिरने लगे तो आसपास के दुकानदार और गुजरने वाले लोग लूटने में लग गए थे। 2000, 500 और 100 रुपये के लाखों नोट ऊपर से बरसते रहे और लोग लूटते रहे। कईयों ने तो अपनी जेब भर ली और और वहां से चलते बने।

पहले तो किसी को समझ में नहीं आया कि माजरा क्या है लेकिन जब रुपये की बारिश होने की जानकारी मिली तो आसपास से लोगों का मजमा उस इमारत के नीचे लग गया था। छठी मंजिल से रुपये गिर रहे थे। भारी भीड़ और रुपये गिरने की सूचना मिलने के बाद बड़ी संख्या में पुलिस की टीम भी मौके पर पहुंच गई। तब पता चला कि उस इमारत में कई निजी कंपनियों का दफ्तर है जहां दोपहर के समय आयकर विभाग की टीम ने छापेमारी की थी। पकड़े जाने के डर से बिल्डिंग की छठी मंजिल पर मौजूद शौचालय की खिड़की से लोग रुपये फेंक रहे थे। उसी को लूटकर राहगीर मालामाल हो गए हैं। शाम 6:30 बजे खबर लिखे जाने तक तलाशी अभियान चल ही रहा था।

उल्लेखनीय है कि इसी तरह से 17 दिसम्बर 1995 को पुरुलिया जिले के आसमान से हथियार बरसने लगे थे जिससे लोग काफी डर गए थे। यह मामला पूरे देश में सुर्खियां बना था।

Loading...
loading...
div#fvfeedbackbutton35999{ position:fixed; top:50%; right:0%; } div#fvfeedbackbutton35999 a{ text-decoration: none; } div#fvfeedbackbutton35999 span { background-color:#fc9f00; display:block; padding:8px; font-weight: bold; color:#fff; font-size: 18px !important; font-family: Arial, sans-serif !important; height:100%; float:right; margin-right:42px; transform-origin: right top 0; transform: rotate(270deg); -webkit-transform: rotate(270deg); -webkit-transform-origin: right top; -moz-transform: rotate(270deg); -moz-transform-origin: right top; -o-transform: rotate(270deg); -o-transform-origin: right top; -ms-transform: rotate(270deg); -ms-transform-origin: right top; filter: progid:DXImageTransform.Microsoft.BasicImage(rotation=4); } div#fvfeedbackbutton35999 span:hover { background-color:#ad0500; }
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker