यूपी में तेज आंधी-तूफान और आकाशीय बिजली से 22 लोगों की मौत-

मुख्यमंत्री दुखी, मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख की राहत राशि पहुंचाने के दिए निर्देश 

Loading...

लखनऊ । उत्तर प्रदेश में भीषण गर्मी के बाद शनिवार को कई जिलों में तेज हवाओं के साथ बारिश हुई। इस दौरान कुछ स्थानों पर ओलावृष्टि हुई और आकाशीय बिजली गिरी। इस आपदा से कम से कम 22 लोगों के मरने की खबर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनहानि पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए मृतकों के परिजनों को तत्काल चार-चार लाख रुपये की राहत राशि पहुंचाने का निर्देश दिया है। देर रात तक विभिन्न जिलों से मिली जानकारी के अनुसार इस दैवीय आपदा से सर्वाधिक छह मौतें कन्नौज में हुईं हैं। इसके अलावा आगरा और रायबरेली में तीन-तीन, प्रतापगढ़ और मैनपुरी में दो-दो तथा  प्रयागराज, कौशांबी, जौनपुर, लखीमपुर खीरी, मुजफ्फरनगर व गोंडा में एक-एक व्यक्तियों के मरने की खबर है।

आंधी तूफान से कई पेड़ उखड़ गये और कच्चे मकान भी ध्वस्त हो गये।  मौसम विभाग के मुताबिक, शनिवार को राजधानी लखनऊ समेत कई जिलों में तेज हवाओं के साथ बारिश हुई। ओलावृष्टि भी हुई। इसके चलते कच्चे मकान, झोपड़ी, पेड़ गिरे हैं। बिजली के पोल और पेड़ गिरने से कई जिलों के सड़कों का आवागमन बाधित हुआ है। तेज बारिश और ओलावृष्टि के कारण कन्नौज जिले के ठठिया थाना क्षेत्र स्थित गैस एजेंसी की दीवार गिरी, जिसकी चपेट में आने से छह से अधिक लोग गंभीर रुप से घायल हो गये।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने राहत बचाव कार्य करते हुए सभी को इलाज के लिए नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने सभी को कानपुर के लिए रेफर कर दिया। रास्ते में ही सभी की मौत हो गयी है।  कन्नौज के जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्रा के मुताबिक, अतिवृष्टि और ओलावृष्टि के कारण जनपद में छह लोगों की जान गयी है। जबकि चार लोग घायल और 26 पशुओं की मौत हुई है। मुआवजे को लेकर उन्होने कहा कि शासन से जो अनुमन्य है वो मृतकों के परिवार को जरुर दिया जायेगा।  इसी तरह जौनपुर जनपद में भी आंधी, तूफान और आकाशीय बिजली की चपेट में आकर जफराबाद थाना के अहमदपुर गांव में रहने वाले एक मजदूर की मौत हुई है। एक युवक घायल हुआ है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस आपदा से हुई जनहानि पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने सभी मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये की राहत राशि तत्काल वितरित करने का निर्देश दिया है।

मुख्यमंत्री ने इस आपदा में घायल हुए लोगों के समुचित उपचार के लिए भी अधिकारियों को निर्देशित किया है। मुख्यमंत्री के निर्देश के तत्काल बाद राहत विभाग की ओर से प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को निर्देशित किया गया कि नुकसान का आकलन करके पीड़ित परिवारों को जल्द से जल्द राहत पहुंचाये।  विदित हो कि मौसम विभाग ने पहले सतर्क रहने की चेतावनी दी थी कि दो जून तक 70 से ज्यादा किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी चल सकती है। मौसम विभाग ने बारिश और ओले पड़ने की भी संभावना व्यक्त की थी।  

Loading...
loading...
div#fvfeedbackbutton35999{ position:fixed; top:50%; right:0%; } div#fvfeedbackbutton35999 a{ text-decoration: none; } div#fvfeedbackbutton35999 span { background-color:#fc9f00; display:block; padding:8px; font-weight: bold; color:#fff; font-size: 18px !important; font-family: Arial, sans-serif !important; height:100%; float:right; margin-right:42px; transform-origin: right top 0; transform: rotate(270deg); -webkit-transform: rotate(270deg); -webkit-transform-origin: right top; -moz-transform: rotate(270deg); -moz-transform-origin: right top; -o-transform: rotate(270deg); -o-transform-origin: right top; -ms-transform: rotate(270deg); -ms-transform-origin: right top; filter: progid:DXImageTransform.Microsoft.BasicImage(rotation=4); } div#fvfeedbackbutton35999 span:hover { background-color:#ad0500; }
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker