कानपुर में एक और ‘लव जिहाद’: ‘सचिन’ बताकर दोस्ती, धर्मांतरण नहीं करने पर चाकू से किया हमला

कानपुर
यूपी के कानपुर में लव जिहाद (Love Jihad) के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे है। लव जिहाद की पीड़िता ने खुद अपना दर्द बयां करते हुए युवक पर गंभीर आरोप लगाए हैं। युवती का कहना है कि मुझसे युवक ने सचिन नाम बताकर दोस्ती की थी, जबकि बाद में पता चला कि यह सचिन नहीं शीबू अली है। पीड़िता ने बताया, ‘शीबू मुझ पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाने लगा, मेरे साथ मारपीट करता रहा। एक दिन तो एक मौलवी को साथ लेकर आया, और मुझसे कहने लगा कि तुम्हें मौलवी से संबंध बनाना पड़ेगा, मैंने इसका भी विरोध किया। जब मैंने धर्म परिवर्तन करने से इनकार कर दिया तो उसने मुझ पर चाकू से हमला कर दिया।’


नौबस्ता थाना क्षेत्र के मछरिया में रहने वाले शीबू अली ने बीते 14 अगस्त 2020 को पीड़िता को मिलने के लिए बुलाया था। शीबू अपने भाई इरशाद के साथ पीड़ता को समझाबुझा घर्म परिवर्तन कर साथ में रहने का दबाव बना रहा था, लेकिन पीड़िता इस बार उसके झांसे में नहीं आई तो, शीबू ने उस पर चाकू से हमला कर दिया था। पीड़िता का उपचार हैलट अस्पताल में चल रहा था। अस्पताल से लौटकर कर आने के बाद उसने पुलिस और मीडिया के सामने अपनी दास्ता रखी है, फिलहाल शीबू हत्या के प्रयास में जेल भेजा गया है।

मस्जिद के भीतर जाते हुए देखा, तब हुई असली पहचान
पीड़िता ने बताया कि एक लड़के ने सचिन शर्मा नाम बताकर मुझसे बातचीत स्टार्ट की थी। उससे मेरा 2013 में अफेयर शुरू हुआ था, इसके बाद बहला-फुसलाकर वो मुझे 2014 में नोयडा ले गया। ऐसे एरिया में मुझे रखा था वो मुस्लिम इलाका था। शुरूआत में तो उसने अपना नाम सचिन शर्मा बताया था, लेकिन मुझे उसकी ऐक्टिविटी देखकर कुछ शक होता था। एक दिन मैंने उसे मस्जिद में जाते हुए देखा, तो मैंने पूछा कि मस्जिद में क्यों जा रहे हो। इस बात पर उसने मेरे साथ मारपीट की, और मेरे कुछ वीडियो बनाए थे, विडियो को वायरल करने की धमकी देता था। मुझे किसी से बातचीत नहीं करने देता था, और कमरे में बंधकर बनाकर रखता था।

मौलवी से संबंध बनाने का बना रहा था दबाव

Loading...

एक दिन वो मस्जिद के मौलवी को लेकर आया और कहने लगा कि मौलवी को तुम्हे खुश करना है, मैने उसकी इस हरकत का विरोध किया, उसने मुझे मौलवी के सामने ही जमकर पीटा था। लगातार मुझपर धर्म परिवर्तन करने का दबाव बनाता था, कहता था कि तुम्हे मुस्लिम बनकर रहना है, मैं भी मुस्लिम हूं। उसकी बात यह बाते सुनकर हैरान गई। किसी तरह से मैं वापस कानपुर आ गई, और अपनी फैमली के टच में रहने लगी।

जब धर्म परिवर्तन करोगी तभी ठीक से रखा जाएगा
डेढ़ से दो साल बाद फिर से मेरे संपर्क में आया, और कहने लगा कि तुम जैसे रहना चाहती हो वैसे रहो। तुम पर किसी प्रकार का दबाव नहीं बनाऊंगा। एक बार फिर से मैं इसकी बातों में आ गई, और साथ रहने लगी। इसने अपने घर के पास ही मछरिया में किराए का कमरा लेकर रखा। शीबू के परिजन आते थे, वो मुझपर दबाव डालते थे कि तुम्हे धर्म परिवर्तन करना पड़ेगा। तुम्हे मुस्लिम बनकर रहना पड़ेगा, और मेरे साथ मारपीट होने लगी, मुझसे कहा जाने लगा कि जब तुम जब धर्म परिवर्तन करोगी तभी तुम्हे ठीक से रखा जाएगा। मौका पाकर मैं वापस अपने घर पर वापस आ गई।

चाकू से पेट और हाथ में किए कई वार
पीड़िता ने बताया कि इसके बाद इस लड़के ने डेढ़ से दो साल बाद मुझसे बातचीत करने का प्रयास किया, और बहलाने फुसलाने की कोशिस की, कि मैं फिर से इसके साथ रहने लगूं, लेकिन मैं नहीं गई। बीते 14 अगस्त 2020 को इसने मुझे बातचीत करने के बुलाया, शीबू और इसका भाई इरशाद वहां पहले से ही मौजूद थे। मुझ पर साथ में रहने का दबाव बना रहा था, जब मैंने इसकी बात नहीं मानी तो, शीबू के भाई ने मुझे पीछे से पकड़ लिया, और शीबू ने मेरे ऊपर चाकू से हमला कर दिया।एसआईटी करेगी पूरे मामले की जांच

लव जिहाद के मामालों की जांच के लिए आईजी रेंज मोहित अग्रवाल ने एसपी साउथ दीपक भूकर के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया है। एसपी साउथ के इस मामले के भी जांच एसआईटी द्वारा की जाएगी, जांच में जो भी तथ्य आएगें, उसी अधार पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker