जन्मदिन पर CM नीतीश का तेजस्वी पर हमला, बोले- एनडीए के साथ चुनाव लड़कर जीतेंगे…

पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को अपने जन्मदिन पर गांधी मैदान से चुनावी अभियान का आगाज किया। नीतीश ने जदयू के कार्यकर्ताओं में जोश भरा। कहा- आगामी विधानसभा चुनाव एनडीए के साथ लड़ेंगे और 200 से ज्यादा सीट जीतेंगे। पिछले दिनों बंद कमरे में तेजस्वी से मुलाकात के बाद उठ रहे सवालों पर भी नीतीश ने साफ कर दिया कि गठबंधन में कोई कन्फ्यूजन नहीं है। सीएए पर कहा कि अभी मामला कोर्ट में है। अदालत के फैसले का इंतजार कीजिए। नीतीश ने कहा कि 15 साल में बिहार की तस्वीर बदल गई। जनता ने 15 साल एक परिवार को काम करने का मौका दिया और उन्होंने बिहार को कहां लाकर खड़ा कर दिया। 2005 में जबसे हमें काम करने का मौका मिला, हर क्षेत्र में हमने विकास की गंगा बहा दी। बिल गेट्स ने भी बिहार की प्रशंसा की।

Loading...

नीतीश ने कहा कि 2005 से पहले बिहार की क्या स्थिति थी, सबको मालूम है। बिहारी जो बिहार के बाहर रहते थे, उन्हें अपमानित होना पड़ता था। बिहारियों को अपनी पहचान छिपानी पड़ती थी क्योंकि बिहार जंगलराज के रूप में जाना जाता था। 2005 में हम जनता से वादा करके सत्ता में आया और सत्ता मिलते ही सबसे पहले कानून का राज कायम किया। आज न्याय के साथ विकास कर रहे हैं। 2005 की क्या स्थिति और आज क्या स्थिति है?

बिना सोचे-समझे बोलने वाले जुबान चलाते हैं, हम काम करते हैं

नीतीश ने बिना नाम लिए तेजस्वी पर भी हमला बोला। कहा- कुछ लोग न सोचते हैं, न जानकारी लेते हैं, न प्रयोग करते हैं, न अध्ययन करते हैं और न कोई आकलन करते हैं। केवल जुबान चलाते रहते हैं। हम तो कम करने वाले लोग हैं और जब से काम करने का मौका मिला तब से बिहार के विकास में जुटे हैं।

अपराध के मामले में बिहार 23वें स्थान पर

नीतीश ने कहा कि बिहार में अपराध का ग्राफ कम हुआ है। कुछ लोग सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाते रहते हैं और इसी को देखकर लोगों को लगता है बिहार में अपराध बढ़ गया है। पहले एफआईआर दर्ज नहीं होती थी और अब कोई थानेदार केस दर्ज नहीं करते तो तत्काल कार्रवाई होती है। अपराध के मामले में बिहार का 23वां स्थान है।

शिक्षकों के लिए कहा- भूल जाते हैं, पहले क्या मिलता था

नीतीश ने कहा कि जब हम सत्ता में आए तब बिहार का क्या हाल था। 12.5 प्रतिशत बच्चे स्कूल नहीं जाते थे और आज यह संख्या एक प्रतिशत से भी कम रह गई है। गरीबी की वजह से छात्राएं स्कूल नहीं जा पाती थी। हमने छात्राओं के लिए पोषाक योजना शुरू की। बाद में लड़के-लड़कियों के लिए साइकिल योजना शुरू की। सीएम ने कहा कि हमने साढ़े तीन लाख शिक्षकों का नियोजन किया। शिक्षक भूल जाते हैं कि पहले क्या मिलता था। आप किसी के लिए कितना भी कर दीजिए वह और खोजता रहेगा।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में व्यापक बदलाव किया

सीएम ने कहा कि पिछले 15 सालों में स्वास्थ्य के क्षेत्र में भी व्यापक बदलाव आया है। 2006 में हमने एक सर्वेक्षण कराया जिसमें प्रखंड स्तर पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में हर महीने औसत 39 लोग इलाज कराने आते थे। आज हर महीने 10 हजार से ज्यादा लोग इलाज कराने जाते हैं।

पोर्न साइट पर बैन लगाने के लिए पीएम को पत्र लिखा है

नीतीश ने कहा कि आज कुछ लोग सोशल मीडिया का दुरुपयोग कर रहे हैं। पोर्न साइट पर गंदी चीजें डाल देते हैं। पॉर्न साइट की वजह से अपराध बढ़ रहा है। हमने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर इसपर तुरंत बैन लगाने की मांग की। पॉर्न साइट के खिलाफ चेतना जागृत करने की कोशिश स्कूलों के माध्यम से भी करेंगे। दैनिक भास्कर पोर्न साइट पर प्रतिबंध लगाने के लिए अभियान चला रहा है।

Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker