कोरोना संकट : पीएम मोदी बोले- सात राज्यों के 60 जिले दे रहे अधिक टेंशन, लेकिन असल में 100 जिलों से..

PTI24-04-2020_000019B

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कहा कि महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और पंजाब ने कोविड-19 महामारी का सबसे ज्यादा मुकाबला करना पड़ा है। उन्होंने कहा कि इन सात राज्यों के 60 जिले कोरोना तेजी से फैल रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि महामारी से मरने वाले मरीजों की बड़ी संख्या भी इन्हीं जिलों की है। इन सात राज्यों में देश के 66% कोविड केस पाए गए हैं। इन्हीं राज्यों में अब तक 77% कोविड मरीजों की मौतें भी हुई हैं। लेकिन आंकड़े बताते हैं कोरोना के लिहाज से देश के 60 ही नहीं, 100 जिले खतरा बने हुए हैं।

इस महीने इन जिलों में 500 से ज्यादा मौतें

महाराष्ट्र के नागपुर, सांगली, सतारा, अहमदनगर और कोल्हापुर, उत्तर प्रदेश के लखनऊ, पंजाब के लुधियाना, कर्नाटक के मैसूर, आंध्र प्रदेश के चित्तूर और यूपी के ही कानपुर नगर, उन जिलों में शुमार हैं जहां सितंबर में 500 से ज्यादा कोरोना मरीजों ने दम तोड़ दिया। ये जिले डेथ रेट में सबसे ऊपर हैं।

Loading...

​सबसे ज्यादा प्रभावित 32 जिले इन सात राज्यों से बाहर

देश में कुल 106 जिले ऐसे हैं जहां 10 हजार से ज्यादा कोरोना केस हैं। इनमें 32 जिले महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और पंजाब से बाहर के हैं। 106 में 11 जिले ऐसे हैं जहां सितंबर महीने में केस दोगुने से भी ज्यादा हो गए, लेकिन ऐसे सिर्फ चार जिले ही इन सात राज्यों में आते हैं। सितंबर में सबसे ज्यादा तेजी से कोरोना केस जम्मू में बढ़े जहां कुल संख्या तिगुनी हो गई। अगर 1,000 से ज्यादा कोरोना केस वाले उन जिलों पर गौर करें जहां महामारी महत्वपूर्ण मोड़ ले सकती है तो पता चलता है कि 60% जिले इन सात राज्यों से बाहर के हैं।

​इन पांच जिलों में सबसे ज्यादा मृत्यु दर

गुजरात के अहमदाबाद में कोविड-19 मरीजों की मृत्यु दर देश में सबसे ज्यादा है। यहां हर 100 में पांच मरीज की मौत हो जा रही है। इस तरह, मुंबई में 4.5, लुधियाना में 4.1, सोलापुर में 3.3 और कोलकाता में 3.1 प्रतिशत की दर से मरीजों की मौतें हुई हैं।

​अधिकतम मृत्यु दर वाले 20% जिले इन 7 राज्यों से बाहर

देश के 31 जिलों में 500 से ज्यादा मौतें हुई हैं और इनमें छह इन सात राज्यों में नहीं हैं। अब 100 से ज्यादा मौतों वाले 140 ऐसे जिलों की पड़ताल की जाए जहां हालात बिगड़ते दिख रहे हैं तो इनका 25% यानी 35 जिले इन सात राज्यों से बाहर के हैं। इस महीने जम्मू में कोविड-19 मरीजों की मौतों में 211% की वृद्धि हुई जो पूरे देश में सबसे ज्यादा है।

​देश के 512 जिलों में 1,000 से ज्यादा केस

देश में 106 जिले ऐसे हैं जहां कोविड-19 से मरने वालों की संख्या 10 हजार से ज्यादा है। महाराष्ट्र के 19, तमिलाडु के 17, कर्नाटक के 13, उत्तर प्रदेश के 7, केरल और प. बंगाल के 5-5, गुजरात, ओडिशा और पंजाब, राजस्थान के 3-3, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर, झारखंड और मध्य प्रदेश के 2-2 जिले जबकि बिहार, चंडीगढ़, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पुदुचेरी और उत्तराखंड का 1-1 जिला ऐसा है जहां कोरोना मरीजों की मौतों की संख्या 10 हजार के पार कर गई है।

रिकवरी रेट से खुशखबरी

एक तरफ कोरोना केस में बेतहाशा वृद्धि हो रही है तो दूसरी तरफ ठीक हो रहे मरीजों की संख्या भी काफी उत्साहजनक है। सितंबर महीने के आंकड़े बताते हैं कि 18 से 23 सितंबर तक हर दिन नए कोरोना केस के मुकाबले ठीक हुए मरीजों की संख्या ज्यादा रहीं।

Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker