उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का कहर जोरो पर, अब तक 38  लोग संक्रमित

लखनऊ । कोरोना वायरस आपदा के मद्देनजर प्रदेश सरकार ने जहां 14 अप्रैल तक लोगों से घरों में ही रहने की पुरजोर अपील की है, वहीं इस बीच पीलीभीत जिले के एक युवक की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने से स्थिति के और गम्भीर होने की हकीकत सामने आयी है।

पीलीभीत जनपद में अमरिया ब्लॉक स्थित हररायपुर गांव निवासी 45 वर्षीय महिला सऊदी अरब से उमरा कर 20 मार्च को लौटी थी। स्क्रीनिंग में महिला को संदिग्ध पाते हुए पीलीभीत के जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था, जिसके बाद उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। बुधवार को महिला के 33 वर्षीय बेटे की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। इसके बाद स्थानीय प्रशासन पूरे गांव को सेनेटाइज्ड कराने के निर्देश दिए हैं।

Loading...

किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के प्रवक्ता डॉ. सुधीर सिंह ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि पीलीभीत निवासी एक युवक में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है। युवक ने कहीं विदेश यात्रा नहीं की थी। उसकी मां सऊदी अरब से देश में वापस लौटी थीं और उनसे इस वायरस का इन्फेक्शन बेटे को हुआ है। इस तरह यह मामला सम्पर्क में आने का है। ये स्थिति वास्त में चिंताजनक है। लोगों को सतर्कता बरतने और सरकार की ओर से दिए जा रहे निर्देशों का पालन करना बेहद जरूरी है। वरना स्थिति और गम्भीर हो जाएगी।

प्रदेश में मंगलवार तक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के 37 प्रकरण सामने आ चुके थे। इनमें कल शामली और नोएडा में एक-एक मरीजों को इसकी पुष्टि हुई थी। वहीं आज पीलीभीत के एक मरीज को मिलाकर ये संख्या 38 पहुंच चुकी है। प्रदेश सरकार के मुताबिक 11 लोग इलाज के बाद पूरी तरह स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। इसके अलावा पाॅजिटिव केसेज के काॅन्टैक्ट्स या संदिग्ध केसेज वाले 68 लोग इस समय भर्ती हैं। सब पर नजर रखी जा रही है।

 

Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker