हाईटेक हुईं कोलकाता की से-क्स वर्कर्स, कस्टमर्स को फोन पेशकश, पैसों के लेन-देन के लिए डिजिटल पेमेंट का इस्तेमाल

कोलकाता
कोरोना महामारी के बीच घोषित लॉकडाउन का असर देश के हर तबके पर पड़ा है। उत्तर कोलकाता के रेड लाइट इलाके सोनागाछी में सेक्स वर्कर्स (Sonagachi Sex Workers) पर रोजी-रोटी का संकट हो गया। ऐसे में सोनागाछी की कुछ सेक्स वर्कर्स ने अपने काम के तरीके को हाई-टेक किया है। अब वह अपने कस्टमर्स को फोन सेक्स की पेशकश कर रही हैं। इस दौरान पैसों के लेन-देन के लिए डिजिटल पेमेंट का इस्तेमाल भी किया जा रहा है।

Loading...


कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण का सेक्स वर्कर्स पर काफी बुरा असर पड़ा है। उनकी कमाई का जरिया ना होने से उनके सामने भूखों मरने की नौबत आ गई है। ऐसे में जिनके पास मोबाइल फोन और इंटरनेट की सुविधा है, वह तो फोन सेक्स और वीडियो कॉलिंग की मदद से कुछ कमाई कर ले रही हैं। वहीं जिनके पास ऐसी सुविधाएं नहीं हैं, वह आय का दूसरा जरिया तलाश रही हैं। येल स्कूल ऑफ मेडिसिन और हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के शिक्षाविदों ने ‘Covid-19 ट्रांसमिशन ऑन इंडिया में रेड-लाइट एरियाज के लगातार बंद होने के प्रभाव’ शीर्षक से एक रिसर्च किया है। रिसर्च के अनुसार, अगर लॉकडाउन को खत्म करने के बाद रेड-लाइट इलाकों को बंद रखा जाता है, तो कोलकाता में Covid-19 मामलों के चरम पर पहुंचने में 36 दिनों का अंतर आएगा। 

कस्टमर्स से फोन सेक्स की पेशकश

15 सालों से लैला दास (बदला हुआ नाम) एक दिन में पांच कस्टमर्स से मिलती थी। इस दौरान कुछ लोग सेक्स चाहते थे, जबकि अन्य उसकी कंपनी चाहते थे। लैला सोनागाछी में सेक्स वर्कर्स में से एक है। जब मार्च में लॉकडाउन की घोषणा की गई, तो उसके सभी कस्टमर गायब हो गए। हालांकि, हाल के दिनों में उसने काम में बदलाव किया है। कोरोना महामारी के इस दौर में लैला हाई-टेक गई है और कस्टमर्स से फोन सेक्स की पेशकश कर पैसे कमा रही है।

वीडियो कॉल के लिए जाने का रेट 500 रुपये
लैला ने कहा कि फोन सेक्स से पहले आमतौर पर बैंक में पैसे मिल जाते हैं। वीडियो कॉल के लिए जाने का रेट 500 रुपये है जो लगभग 30 मिनट तक रहता है। उसने बताया कि हर कस्टमर्स बैंक से पैसे नहीं भेज सकता है। कुछ लोग जो पास रहते हैं वो दूध या किराने का सामान खरीदने के बहाने अपने घर से बाहर निकलते हैं और पैसे देकर छोड़ देते हैं। हालांकि इस दौराल कुछ लड़कियों को धोखा भी देते हैं। 

95% सेक्स वकर्स कर रही हैं फोन सेक्स की पेशकश
दरबार महिला समिति समिति (डीएमएससी) की अध्यक्ष बिशाखा लस्कर के अनुसार, ‘संक्रमण फैलने को को लेकर हर कोई डरता है। वह जिस गली में रहता हैं, वहां कुल 130 लड़कियां रहती हैं। इसमें लगभग 95% अब कस्टमर्स को फोन सेक्स की पेशकश कर रही हैं। उन्होंने बताया कि इससे पहले इस तरह के संकट का सामना सेक्स वर्कर्स को नोटबंदी के दौरान करना पड़ा था।

Loading...
loading...
div#fvfeedbackbutton35999{ position:fixed; top:50%; right:0%; } div#fvfeedbackbutton35999 a{ text-decoration: none; } div#fvfeedbackbutton35999 span { background-color:#fc9f00; display:block; padding:8px; font-weight: bold; color:#fff; font-size: 18px !important; font-family: Arial, sans-serif !important; height:100%; float:right; margin-right:42px; transform-origin: right top 0; transform: rotate(270deg); -webkit-transform: rotate(270deg); -webkit-transform-origin: right top; -moz-transform: rotate(270deg); -moz-transform-origin: right top; -o-transform: rotate(270deg); -o-transform-origin: right top; -ms-transform: rotate(270deg); -ms-transform-origin: right top; filter: progid:DXImageTransform.Microsoft.BasicImage(rotation=4); } div#fvfeedbackbutton35999 span:hover { background-color:#ad0500; }
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker