राम मंदिर को बनाएंगे राष्ट्र का मंदिर : अश्विन ओझा


 प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर निर्माण में सहभागी बनेगा पूरा देश : रामशरण दास 

-गोला में श्रीराम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र समर्पण निधि अभियान समिति के कार्यालय का हुआ उद्घाटन 
गोला,गोरखपुर। अयोध्या धाम में प्रभु श्रीराम के मंदिर निर्माण का कार्यक्रम जैसे आगे बढ़ रहा है, वैसे-वैसे लोगों में राममंदिर निर्माण में समर्पण व कारसेवा की लालसा भी बढ़ती जा रही। इसी जनभावनाओं के अनुरूप ही विश्व हिंदु परिषद के तत्वाधान में गोला उपनगर के पश्चिमी चौराहे पर श्रीराम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र समर्पण निधि अभियान समिति के अस्थाई कार्यालय का शुभारंभ हुआ। अयोध्याधाम रंग महल सरकार के महंथ रामशरण दास ने बतौर मुख्य अतिथि वैदिक मंत्रोच्चार के साथ प्रभु श्रीराम के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर कार्यालय का उद्घाटन किया। इस अवसर उन्होने कहा कि सैकड़ों वर्षो के संघर्ष एवं सनातनी बलिदानियों के बलिदान के बाद हमें प्रभु श्रीराम के मंदिर निर्माण का सौभाग्य मिला है। ऐसे में विश्व बंधुत्व व मर्यादा के पर्याय प्रभु श्रीराम के जन्म स्थान पर बन रहे मंदिर निर्माण में पूरे देश को समर्पण व जनसहभागिता करनी चाहिए। 

विश्व हिदू परिषद के प्रांत सहमंत्री एवं जिला अभियान संयोजक अश्वनी ओझा ने कहा कि अयोध्या का राम मंदिर सिर्फ राम मंदिर ही नही बल्कि राष्ट्र के एकीकरण व विश्वास का एक मंदिर होगा। राम मंदिर के निर्माण में भी हर नागरिक सहयोग देकर धर्म के प्रति सजगता दिखाए। तभी राम मंदिर को राष्ट्र का मंदिर बनाने का सपना साकार होगा। यह अभियान15 जनवरी से 27 फरवरी तक चलेगा। गांवों से लेकर नगर तक टोलियाँ जाकर समस्त हिंदू परिवारों से संपर्क कर मंदिर निर्माण के लिए समर्पण निधि का संग्रह किया जाएगा। अभियान का मुख्य उद्देश्य हिंदू जनमानस को मंदिर निर्माण अभियान से जोड़ने का है।इसके अतिरिक्त कार्यक्रम को सह प्रमुख राम सागर पति त्रिपाठी व कार्यक्रम संचालक विभाग सम्पर्क प्रमुख संतोष दूबे ने संबोधित किया।                  

इस अवसर पर पूर्व मंत्री राजेश त्रिपाठी, वीएचपी जिला अध्यक्ष प्रदीप पाण्डेय, भाजपा महिला मोर्चा की क्षेत्रीय उपाध्यक्ष अस्मिता चंद, भाजपा जिला कोषाध्यक्ष शत्रुघ्न कसौधन, अभियान प्रमुख एवं कार्यालय प्रभारी हृदय पाण्डेय, नगर अभियान प्रमुख ऋषि साहनी, अभिषेक तिवारी, नित्यानंद मिश्र, विनोद तिवारी, रतन प्रकाश दूबे सहित तमाम लोग मौजूद थे।

Back to top button
E-Paper