COVID-19 के बाद चीन में फैली नई महामारी! 3000 से ज्‍यादा संक्रमित, जानें क्या है Brucellosis ?

चीन में Brucellosis नाम की एक महामारी काफी तेजी से फैल रही है। मीडिया में आ रही जानकारी के मुताबिक नॉर्थवेस्ट चीन के गंसू प्रक्षेत्र के Lanzhou शहर में अब तक 3,245 लोगों का टेस्ट Brucellosis पॉजिटिव आय़ा है । सोमवार को यहां कुल 21,847 लोगों का टेस्ट किया गया था । आंकड़ों के मुताबिक 4,646 लोग शुरुआती स्क्रिनिंग में पॉजीटिव आए और बाद में इनमें से 3,245 लोगों कन्फर्म रूप से पॉजिटिव पाए गए हैं । चीन के सरकारी अखबार ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने भी यह बात एक रिपोर्ट के आधार पर बताई है।

मृत्‍यु की पुष्टि नहीं
हालांकि अभी तक इस बीमारी से किसी के मरने की पुष्टि नहीं हुई है। लेकिन इस महामारी फैलने की वजह के बारे में यह कहा जा रहा है कि, पिछले साल नवंबर महीने में एक बायोलॉजिकल फार्मा फैक्ट्री ने जानवरों के लिए इस्तेमाल में आने के लए ब्रूसेला वैक्सीन बनाने में एक्सपायर हो चुके कीटनाशकों और सैनेटाइज़रों का इस्तेमाल किया था। बीती जुलाई और अगस्त महीनों में फैक्ट्री, ठीक तरीके से वेस्ट गैस से बैक्टीरिया को नष्ट कर पाने में नाकाम रही और इसी वजह से ब्रूसेलोसिस नाम की महामारी फैल गई । हालांकि अभी तक इसकी पुष्टि नहीं हुई है।

Loading...

Alert पर मेडिकल इंस्टिट्यूटस
चीन के Lanzhou शहर के कई मेडिकल संस्थानों और अस्पतालों को अलर्ट रहने के लिए कह दिया गया है, साथ ही साथ इन अस्पतालों से ये भी कहा गया है कि वो इस बीमारी के लिए लोगों की मुफ्त में जांच करें । जांच में सतर्कता करतने के निर्देश हैं । देखा जा रहा है कि ये बीमारी किस तरह से फैल रही है और इसका पैटर्न क्‍या है । बीमारी को अगर शुरुआती स्‍टेज में नहीं पकड़ा गया तो आने वाले दिनों में हालाता मुश्किल हो सकते हैं ।

क्या है Brucellosis?
Brucellosis नाम की इस बीमारी के बारे में बताया जा रहा है कि यह बैक्टीरिया से फैलने वाली बीमारी है। प्रमुख तौर पर यह पशुओं जैसे सुअर, भेड़, बकरी और कुत्ते को ही संक्रमित करती है, लेकिन इसका मनुष्‍यों में देखा जाना चिंता की बात है । मनुष्य इस बीमारी से ग्रसित तब ही होगा जब वो इस बीमारी से ग्रसित जानवरों के सीधे संपर्क में आएंगे । विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक Brucellosis से ग्रसित पशुओं के दूध से बनाए गए चीज़ के सेवन के बाद ज्यादातर मनुष्यों में यह बीमारी फैली है।

Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker