कोविड-19 के साथ-साथ अन्य बीमारियों के इलाज में ना बरते लापरवाही, नहीं तो समस्या हो सकती है जटिल-डॉ तरुण

दिल्ली। इस कोरोना महामारी के दौरान सभी लोगों को अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की ज़रूरत है हमें संतुलित भोजन और इसमें इम्युनिटी बढ़ाने वाली चीज़ों का प्रयोग अधिक करना चाहिए । सर गंगा राम अस्पताल के लेप्रोस्कोपिक एवं बेरिएट्रिक सर्जन डॉ तरुण मित्तल ने दैनिक भास्कर के साथ एक खास बातचीत में बताया कि हमें नियमित व्यायाम के साथ एक अच्छी दिनचर्या का पालन करना चाहिए। 7 से 9 घंटे की नींद आवश्यक है। डॉ मित्तल ने कहा कि डॉक्टरों की सलाह से विटामिन व सप्लिमेंट्स का प्रयोग एवम् अपनी बीमारियां जैसे ब्लड प्रेशर, शुगर इत्यादि की नियमित दवाइयों का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

यदि आपको कोई भी स्वास्थ्य से जुड़ी परेशानी होती है तो अब और भी ज़रूरी है कि हमें लक्षणों को नकारना नहीं चाहिए, उन्होंने आगे कहा कि हमें समय पर डॉक्टर से टेलीफोनिक या वीडियो कॉलिंग से सलाह लेनी चाहिए, अगर डॉक्टर ज़रूरी समझें तो हमें अविलंब अस्पताल पहुंचकर उसकी समय पर सही जाँच व इलाज कराना चाहिए। क्योंकि कोई भी यह नहीं चाहता कि इस महामारी के दौरान एक साधारण सी बीमारी गंभीर रूप धारण कर ले।”एक अन्य सवाल के जवाब में डॉ तरुण मित्तल ने बताया कि एक ओर हमारे देश की एक प्रतिशत से कम जनता कोरोना से संक्रमित है, दूसरी ओर उस डर से बाकी बीमारियों को भूल जाना या उन्हें दबा कर रखना, भविष्य में यह समस्या और जटिल हो सकती है ।

Loading...

उन्होंने उदाहरण देकर समझाते हुए बताया कि भारत में एक साल में क़रीब 8 लाख लोगों की मृत्यु कैंसर से व 4. 5 लाख लोगों की मृत्यु टीवी के कारण होती है। उन्होंने कहा कि हमने बीते महीनों में अनुभव किया है, लोग अपनी बीमारियों को घर में ही इलाज कराने या करने की कोशिश कर रहे हैं या दबा कर रख रहे हैं, और जब वह अस्पताल आते हैं तब तक वह छोटी बीमारी भी विशाल रूप ले लेती है। जैसे कि गालब्लैडर का फटना, आंतो व अपेंडिक्स का फटना एवम् कई अन्य जटिलता। किडनी फेलियरऔर हार्ट की बीमारियो से पीड़ित मरीज अगर समयानुसार इलाज न कराए, उनकी यह बीमारी विशाल होकर शरीर को हानि पहुँचा सकती है।इस समय यह अतिआवश्यक है कि हम अस्पताल का चयन सोच समझकर कर करें ।जहाँ सभी टेस्ट वह इलाज एक ही जगह हो जाएं तथा जहाँ कोरोना संक्रमण को कंट्रोल करने के लिए सभी नियमों का सुचारु रूप से पालन हो रहा हो, एवम् सभी स्पेशलिस्ट की सहायता से मरीज का सही और सही समय पर इलाज किया जा सके। ऐसी जगह ही हमें अपना इलाज कराना चाहिए।

इसी क्रम में सर गंगाराम अस्पताल के डॉक्टर डीएस राना ,चेयरमैन एवं बोर्ड ऑफ़ मैनेजमेंट ने कहा कि “हमने सर गंगाराम हॉस्पिटल की एक पूरी बिल्डिंग(SSRB) को अन्य बीमारियों के (non corona) मरीजो के लिए समर्पित किया है। जिससे कोरोना के संक्रमण को रोकते हुए, अन्य बीमारियो का टेस्ट और इलाज किया जा सके।सारे ऐश्चिक एवम् आपातकालीन ऑपरेशन किए जा रहे हैं, सारे ऑपरेशन मरीज को SSRB में भर्ती करके किए जा रहे हैं। सारी सर्जरी ssrb बिल्डिंग में ही की जा रही है। डॉ राणा ने बताया कि गर्मी को देखते हुए हमारे अस्पताल में वातानूकूलन का भी उपयोग हो रहा है लेकिन इससे करोना का संक्रमण न बढ़े इसके लिए कुछ विशेष परिवर्तन किए गए हैं ।यह परिवर्तन ओपीडी एवं वार्ड कि वायु नियंत्रण इकाई (air handling unit) मे किए गए हैं।”

Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker