अब भारतीय नौसेना की ताकत होगी दोगुनी, अब अमेरिका बेचेगा शक्तिशाली तोपें

जल्द ही भारतीय नौसेना की ताकत में वृद्धि होने वाली है। अमेरिका ने भारत को एक अरब अमेरिकी डॉलर की तोपों को बेचने का फैसला किया है। अमेरिका के भारत को रक्षा साजो सामान देने की स्वीकृति से भारतीय नौसेना के बेड़े में 13 एमके एंटी सरफेस और एंटी एयर नेवल गन सिस्टम शामिल हो जाएंगे।

Loading...

इसके बाद भारतीय नौसेना की ताकत बढ़ जाएगी। दुश्मन का समुद्र के रास्ते भारत की ओर निगाह दौड़ाना दिवास्वप्न हो जागा। अमेरिकी कांग्रेस ने इस आशय की स्वीकृति मंगलवार को प्रदान की। यह तोपें भारत को कब मिलेंगी, अभी यह साफ नहीं हो सका है। इनकी मारक क्षमता 20 नाटिकल मील बताई जाती है।

अमेरिकी रक्षा विभाग ने बुधवार को जारी बयान में कहा है इस नौसेना के साजो सामान के साथ अपेक्षित बारूद भी भेजने को स्वीकृति दी गई है। यह कुल साजो सामान एक अरब दो सौ करोड़ डॉलर का है। अमेरिका की डिफेंस सिक्योरिटी को-ऑपरेशन एजेंसी ( डीएससीए ) ने कहा है कि प्रस्तावित बिक्री अमेरिकी विदेश नीति और राष्ट्रीय सुरक्षा नीति को बल प्रदान करने के उद्देश्य से की गई है।
उल्लेखनीय है कि मोदी सरकार के सत्तारूढ़ होने के बाद भारत और अमेरिका के बीच द्वपक्षीय सामरिक रणनीति में मजबूती आई है। अमेरिका ने पिछले साल ही ‘नाटो’ के मित्र देशों के रूप में भारत को दर्जा दिया है।

अब भारत की रक्षा जरूरतों को पूरा करने का बीड़ा उठाया है। भारतीय नौसेना के बेड़े में एमके-45 गन सिस्टम आने से समुद्र मार्ग से दुश्मन के हवाई आक्रमण को नेस्तनाबूत किया जा सकेगा। इसी तरह नभ से भी एंटी एयर गन सिस्टम से दुश्मन के दांत खट्टे करने में मदद मिलेगी। अमेरिकी बयान में कहा गया है कि बीएई निर्मित इस सिस्टम का उपयोग अमेरिका के अलावा दक्षिण कोरिया , जापान और डेनमार्क कर रहे हैं।

Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker