प्रतापगढ़ : व्यापारी बेटे का शव देख पिता की भी थमी सांसें

????????????????????????????????????

पिता-पुत्र की शव यात्रा में शामिल हुए नेता व व्यापारीगण

प्रतापगढ़। राजकीय बालिका इंटर कालेज के पीछे हाईटेंशन विद्युत तार की चपेट में आने से व्यापारी विशाल खण्डेलवाल की मौत की खबर से पिता कैलाश खण्डेलवाल की मौत हो जाने से शनिवार व रविवार को पूरे मकंदू्रगंज में शोक छाया रहा। पिता पुत्र की शवयात्रा रविवार को निकली तो आम लोगों की आंखें नम हो गई।


घटना के बारे में बताया जाता है कि नगर कोतवाली के मकंदू्रगंज निवासी विशाल खण्डेलवाल (42) की जीजीआईसी के पीछे कपड़े की दुकान है। दुकान के ऊपरी हिस्से में इन दिनों निर्माण कार्य चल रहा है। शनिवार को सुबह विशाल दुकान पहुंचे और साफ-सफाई करने के बाद कूड़ा लोहे के तसले में रखकर फेंकने के लिये छत पर चले गये। मकान की छत के बगल से 11 हजार की विद्युत लाइन गई थी। तसला विद्युत लाइन से छूते ही विशाल बुरी तरह से झुलस गये। यह देख लोग दौडे़ और विशाल को लेकर अस्पताल लेकर भागे। बताया जाता है कि प्रयागराज ले जाते समय उसकी रास्ते में मौत हो गई।

घरवाले उसे रास्ते से ही लेकर लौट आए। घटना के समय विशाल के पिता कैलाश खण्डेलवाल रायपुर जा रहे थे। वह यह खबर मिलते ही एयरपोर्ट से लौट आए। बेटे का शव देखकर कैलाश अचेत हो गये। उन्हें भी अस्पताल ले जाया गया जहां प्रयागराज ले जाते समय रास्ते में उनकी भी मौत हो गई। शनिवार की रात तक पिता-पुत्र का शव रखा था। बाप-बेटे का शव देखकर घरवालों का रो-रोकर बुरा हाल था। रविवार की सुबह नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष हरिप्रताप ंिसंह, उद्योग व्यापार मण्डल के जिलाध्यक्ष राजेन्द्र केसरवानी सहित सैकड़ों की संख्या में व्यापारी उनके आवास पर पहुंचे और उनकी शवयात्रा में शामिल हुए। दोनों का शव अन्येष्टि के लिये घर से निकला तो आम लोगों की भी आंखें नम हो गई।

Back to top button
E-Paper