मामूली विवाद के पास दो पक्षों में संघर्ष, दर्जनों हिरासत में

थाना प्रभारी कैसरगंज ने तत्परता से त्वरित गति से की गई कार्यवाही, समय रहते कैसरगंज थाना प्रभारी ने घटना पर किया नियंत्रण

 

Loading...

क़ुतुब अंसारी
बहराइच l थाना कैसरगंज कि पुलिस की तत्परता से शांति भंग कर रहे एक दूसरे की जान लेने पर अमादा दर्जनों लोगों को हिरासत में लेकर जेल भेज दिया गया। थाना प्रभारी कैसरगंज संजय कुमार सिंह की सूझबूझ से एक संभावित बड़ी घटना को रोक लिया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार कैसरगंज मुख्यालय के ग्राम ऐनी हतिन्सी मैं प्रधानी चुनावी रंजिश को लेकर दो गुटों के बीच आए दिन कुछ न कुछ नोकझोंक होती रहती थी जिस के क्रम में बीती शाम दोनों गुटों की कहासुनी ने एक संघर्ष का रूप ले लिया और दोनों पक्षों के लोग एक दूसरे की जान लेने पर आमादा हो गए। नियमित ड्यूटी पर तैनात पुलिस बल ने बीते शाम की घटना की खबर मिलते ही तत्काल स्थानीय थाना को सूचित किया जिसके बाद थाना प्रभारी संजय कुमार सिंह ने जरवल रोड व फखरपुर थाने की पुलिस बल की मदद से मौजूदा हालात पर स्वयं मौके पर पहुंचकर नियंत्रण किया तथा दर्जनों लोगों को हिरासत में लेकर जेल भेज दिया।

कैसरगंज पुलिस ने दोनों पक्षों की प्रार्थना पत्र पर प्रथम पक्ष के शिकायतकर्ता मुईज अहमद पुत्र जाबिर अली निवासी एनी हातिन्सी की तहरीर पर उस्मान अली उर्फ जुम्मन, मन्नान अली उर्फ मुंशी, पप्पू, व इंतजार पुत्रगण अजमल,  राजू पुत्र बाउर, साजू व राजू पुत्र नियाज अली एवं कुछ अज्ञात लोग निवासी एनी हतिन्सी थाना कैसरगंज के खिलाफ मुकदमा अपराध संख्या 566/2019 धारा 147, 148, 149 452, 323, 504, 506 व 307 IPC के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया।   पुलिस को दिए गए प्रार्थना पत्र में मुईज अहमद पुत्र जाबिर अली ने कहा है कि प्रार्थी अपने परिवार वालों के साथ दरवाजे पर बैठा था कि बीती शाम लगभग 6:00 बजे विपक्षीगण लाठी, डंडा, फरसा व रिवाल्वर लेकर प्रार्थी के घर में घुसकर मारा पीटा है, जिसमें विपक्षी उस्मान अली उर्फ जुम्मन व मन्नान अली उर्फ मुंशी के हाथ में लाइसेंसी रिवाल्वर भी थी।

प्रार्थना पत्र के क्रम में दूसरे पक्ष से मोतिया पुत्र फैयाज निवासी ऐनी हतिन्सी थाना कैसरगंज की तहरीर पर ग्राम प्रधान तबरेज, मुईज, कासिम, हसीन व जुनैद पुत्रगण जाबिर अली, सुफियान पुत्र झगरु, आयसू पुत्र साबिर, छोटे भोलू पुत्र चुन्नऊ, निजाम पुत्र मोहम्मद उमर, असद पुत्र तबरेज, सद्दाम वारसी उर्फ सैफी वारसी पुत्र मिज्जन अली, जुम्मन पुत्र दद्दन व ताज सेठ उर्फ नझऊ सेठ पुत्र बांके निवासी ऐनी हतिन्सी थाना कैसरगंज के खिलाफ मुकदमा अपराध संख्या 567/2019 धारा 147, 148, 149 452, 323, 504, 506 व 307 IPC के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया।   पुलिस को दिए गए प्रार्थना पत्र में मोतिया पुत्र फैयाज ने कहा है कि प्रार्थी अपने परिवार वालों के साथ दरवाजे पर बैठे थे कि बीती शाम लगभग 6:30 बजे विपक्षीगण लाठी, डंडा व असलहा लेकर भद्दी भद्दी गालियां देते हुए हमें जान से मारने की नियत से मेरे घर हमला बोल दिए और घर में घुस गए, जिसके बाद तबरेज प्रधान ने मेरे ऊपर गोली चलाई, जो कि कान के पास से निकल गई। विपक्षीगणो ने जान से मारने की नियत से बेत-बल्लम तलवार वाला थी डंडा आदि  से वार किया जिससे हम लोगों को गंभीर चोटें भी आई हैं। गोलियों की आवाज सुनकर आसपास के लोगों ने अपने खिड़की दरवाजे डर के कारण बंद कर लिए, गांव के ही पास पड़ोस के कुछ हिम्मती लोगों के घटनास्थल पर दौड़ते हुए देखकर इकट्ठा होने पर विपक्षी प्रार्थी गण वहां से भाग निकले जिससे हमारी जान बच गई।

वहीं इस घटना के बाबत थाना प्रभारी कैसरगंज ने जानकारी देते हुए बताया कि थाना कैसरगंज के हेड मुहर्रिर कांस्टेबल अमर सिंह, मोहम्मद अबरार मय सरकारी वाहन से देखभाल के लिए क्षेत्र में नियमित ड्यूटी पर थे, तभी उन्हें सूचना मिली कि ग्राम एनी हतिन्सी में वर्तमान प्रधान तबरेज के समर्थकों एवं पूर्व प्रधान प्रत्याशी साजू के समर्थकों में मारपीट एवं झगड़ा हो रहा है, सूचना मिलते ही उपनिरीक्षक अंजनी कुमार राय, उप निरीक्षक अशोक कुमार, उपनिरीक्षक लव कुमार सिंह, उप निरीक्षक सलमान अली, उपनिरीक्षक सतीश कुमार गुप्ता, हेड कांस्टेबल संजय सिंह, पवन कुमार, रामतेज कनौजिया, मेराज अहमद को साथ लेकर थाना प्रभारी संजय कुमार सिंह ऐनी स्थित मस्जिद के पास पहुंचे जहां पर दोनों पक्षों को मारपीट होते, व असलहो से फायरिंग होते, हिंसक रूप से एक दूसरे के ऊपर हमलावर होकर भय का माहौल पैदा कर रहे लोगों को देखा।
थाना प्रभारी कैसरगंज संजय कुमार सिंह के अनुसार दर्जनों लोग एक बड़ी संख्या में दो गुटों में होकर कानून व्यवस्था को छिन्न-भिन्न कर, शांति व्यवस्था को चुनौती देते हुए, एक दूसरे पर हमलावर हो रहे थे। उक्त गांव में मौजूदा समय अफरातफरी का माहौल पैदा हो गया था, जिसके बाद शांति व्यवस्था कायम करने के संबंध में स्थानीय थाना जरवल रोड वह पखरपुर के पुलिस बल को घटनास्थल पर बुलाया गया तथा बड़ी संख्या में इन अभियुक्तों की गिरफ्तारी की गई।
थाने थाना कैसरगंज की पुलिस ने मौके से 16 लोगों को गिरफ्तार कर मुकदमा पंजीकृत करते हुए, न्यायालय के आदेशों का पालन करते हुए पुलिस अभिरक्षा में जेल भेज दिया।

पूरी घटना के बाबत थाना प्रभारी कैसरगंज के स्वयं की तहरीर पर प्रधान तबरेज, मुईज, कासिम, हसीन व जुनैद पुत्रगण जाबिर अली, सुफियान पुत्र झगरु, आयसू पुत्र साबिर, छोटे भोलू पुत्र चुन्नऊ, निजाम पुत्र मोहम्मद उमर, असद पुत्र तबरेज, सद्दाम वारसी उर्फ सैफी वारसी पुत्र मिज्जन अली, जुम्मन पुत्र दद्दन व ताज सेठ उर्फ नझऊ सेठ पुत्र बांके, उस्मान अली उर्फ जुम्मन, मन्नान अली उर्फ मुंशी, पप्पू, व इंतजार पुत्रगण अजमल,  राजू पुत्र बाउर, साजू व राजू पुत्र नियाज अली, राजा पुत्र तबरेज, लल्लू पुत्र छुटकऊ, बबलू पुत्र सरदार अली, गुड्डू पुत्र तौफीक अबू बकर उर्फ चुन्नू पुत्र मकबूल, लल्लू पुत्र साबिर, अमन पुत्र नब्बध, जिशान पुत्र इमरान अहमद, तस्लीम पुत्र मोहम्मद तसीम, मोहम्मद अकलीम पुत्र तसीम, मोहम्मद जाफर पुत्र अब्दुल गफूर, इंतजार अली पुत्र मोहम्मद अहमद, रेहान अली पुत्र जाबिर अली, इकरार पुत्र हजारी, मोहम्मद तसीफ पुत्र फैयाज अली, रुखसार पुत्र फरीद, मन्सूर उर्फ गब्बर पुत्र तौहीद आलम, आमिर अली पुत्र गुलजार अहमद, गुलजार पुत्र नियाज अली, कमरुद्दीन पुत्र जमील, पीरु हाफिज पुत्र बच्छन अली, सलमान पुत्र यार अली एवं कुछ अज्ञात लोग निवासी ऐनी हतिन्सी थाना कैसरगंज खिलाफ मुकदमा अपराध संख्या 568/2019 धारा 147, 148, 149, 353, 7 दंड विधि संशोधन अधिनियम (2013) IPC के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया। पूरी घटना के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी देते हुए थाना प्रभारी कैसरगंज ने बताया की मौके पर गिरफ्तार 16 अभियुक्तों को न्यायालय के निर्देशों का अक्षरशः पालन करते हुए मुकदमा पंजीकृत करने के उपरांत पुलिस अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया व अन्य नामजद वांछित अभियुक्तों की तलाश संयुक्त रूप से पुलिस टीमें बनाकर दबिश देकर तलाश की जा रही है।

Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker