आज श्रृंखला जीतने के इरादे से उतरेगी विराट सेना, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरा टेस्ट आज से शुरू

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट श्रृंखला का दूसरा मुकाबला आज  गुरुवार से पुणे में खेला जाएगा। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट में भारत ने शानदार जीत दर्ज की थी। अब भारतीय टीम आज 10 अक्टूबर से पुणे में शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट को जीत श्रृंखला पर कब्जा जमाने के इरादे से मैदान पर उतरेगी। वहीं मेहमान टीम की नजर मैच में जीत दर्ज कर श्रृंखला बराबर करने पर होगी।

पहले टेस्ट में भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन किया था और मेहमान टीम के खिलाफ 203 रनों की बड़ी जीत हासिल की थी। बल्लेबाजी हो या गेंदबाजी दोनों पक्ष में भारतीय खिलाड़ी विपक्षी पर हावी नजर आए। पहली बार टेस्ट में सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभा रहे रोहित शर्मा ने दोनों पारीयों में शतक लगाकार टेस्ट क्रिकेट में कई रिकॉर्ड अपने नाम किए। रोहित ने मैच में 176 और 127 रन की पारी खेली थी। वहीं मयंक अग्रवाल ने पहली पारी में दोहरा शतक (215 रन) लगाकार टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई। ऐसे में दूसरे टेस्ट मेच में टीम को दोनों सलामी बल्लेबाजों से एक बार फिर बड़ी पारी की उम्मीद होगी। इनके अलावा चतेश्वर पुजारा, कप्तान विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे टीम की बल्लेबाजी को खतरनाक बनाती है। हनुमा विहारी भी बड़ी पारी खेलने की काबिलियत रखते हैं।

गेंदबाजी में मोहम्मद शमी, रवींद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन ने पहले टेस्ट में अफ्रीकी बल्लेबाजों को क्रिज पर टिकने का मौका नहीं दिया। अश्विन ने पहली पारी में 7 विकेट लिए जबकि जडेजा ने दोनों पारियों में अश्विन का अच्छा साथ निभाया। वहीं दूसरी पारी में शमी की घातक गेंदबाजी देखने को मिली थी। दूसरे मैच में भी तीनों गेंदबाज मेहमान बल्लेबाजों की अच्छी परीक्षा लेंगे।

दूसरी तरफ दक्षिण अफ्रीका की बात करें तो विशाखापट्टनम टेस्ट की पहली पारी में मेहमान टीम के बल्लेबाजों ने थोड़ा संघर्ष दिखाया लेकिन दूसरी पारी में बल्लेबाजी पूरी तरह बिखरी दिखाई दी। कप्तान डू प्लेसी, सलामी बल्लेबाज डीन एल्गर और डी कॉक को छोड़कर कोई भी अफ्रीकी बल्लेबाज क्रिज पर ज्यादा देर नहीं टिक पाया। ऐसे में अफ्रीकी टीम को अपने बल्लेबाजों से पुणे टेस्ट में काफी उम्मीदें होंगी। वहीं टीम की गेंदाबाजी भी पहले टेस्ट में खास नहीं थी। टीम के मुख्य गेंदबाज कगिसो रबाडा और स्पिनर केशव महराज भारतीय बल्लेबाजों को परेशान नहीं कर पाए थे। ऐसे में दूसरे मैच के लिए अफ्रिकी गेंदबाजों को सटीक लाइन-लेंथ पर गेंदबाजी करनी होगी।

सिर्फ एक मैच खेला गया है पुणे में
पुणे में अब तक केवल एक टेस्ट मैच 2017 में खेला गया था। यह मैच तीन दिन में खत्म हो गया था। इस मुकाबले में भारत को ऑस्ट्रेलिया के हाथों 333 रनों से बड़ी हार झेलनी पड़ी थी। उस वक्त टीम की कमान विराट कोहली के हाथों में ही थी। ऐसे में विराट कोहली की नजर दूसरे टेस्ट मैच में जीत दर्ज कर पुणे में खाता खोलने पर भी होगी।

हनुमा की जगह उमेश को मौका मिल सकता है
पहले टेस्ट में भारतीय टॉप ऑर्डर ने शानदार प्रदर्शन किया था। रोहित शर्मा ने दोनों पारियों में (176 और 127 रन) शतक लगाया था। पहली पारी में मयंक अग्रवाल ने (215 रन) दोहरा शतक लगाया था, जबकि दूसरी पारी में चेतेश्वर पुजारा ने 81 रन की पारी खेली थी। इस लिहाज से कप्तान विराट कोहली दूसरे टेस्ट में हनुमा विहारी की जगह तीसरे तेज गेंदबाज के तौर पर उमेश यादव को मौका दे सकते हैं। पहले टेस्ट में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 203 रन से हराया था।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit exceeded. Please complete the captcha once again.

E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker