अब हाई रिक्स प्रेग्नेंसी से गुजर रही महिलाओं की होगी निगरानी

जनपद में 671 महिलाओं की गई प्रसव जांच

हमीरपुर। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत आज जनपद के सभी स्वास्थ्य केंद्रों में प्रसव पूर्व जांच की गई। हाई रिक्स प्रेग्नेंसी एचआरपी से गुजर रही महिलाओं को खास देखभाल की हिदायत दी गई है। इन महिलाओं की प्रसव होने तक स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में रहने की अनुमति दी गई है। इनको बताया गया कि प्रत्येक माह की 9 तारीख को होने वाले इस कार्यक्रम में जनपद के सभी स्वास्थ्य केंद्रों में प्रसव इकाइयों पर पहुंचने वाली गर्भवती की प्रसव पूर्व चार जांचें ब्लड टेस्ट, यूरीन टेस्ट, ब्लड प्रेशर, हीमोग्लोबिन, और अल्ट्रासाउंड की जाती है। और उन्हें प्रसव पूर्व होने वाली इन चारों जांचों के विषय में विस्तार से जानकारी दी गई साथ ही परिवार नियोजन से जुड़े कार्यक्रमों के विषय में जानकारी देकर जागरूक किया गया।

शुक्रवार को जनपद के सभी स्वास्थ्य केंद्रों में प्रसव इकाइयों पर प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस का आयोजन किया गया। जिला महिला अस्पताल में सीएमएस डॉ फौजिया अंजुम नोमानी ने कार्यक्रम में मौजूद महिलाओं को परिवार नियोजन कार्यक्रमों की जानकारी देंने के साथ उन्हें जच्चा-बच्चा सुरक्षा कार्ड का वितरण किया गया। उन्होंने कहा कि प्रसव पूर्व जांच करा देने से प्रसव के समय किसी किस्म का कोई रिक्स नहीं होता है। इसलिए गर्भवती महिलाएं चार जांचें प्रसव पूर्व अवश्य कराएं, खानपान का विशेष ध्यान रखें, आयरन की गोली का सेवन करें। इस मौके पर डॉक्टर पूनम सचान, आशा सचान, जिला स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी अनिल यादव परिवार कल्याण कार्यक्रम की सलाहकार निकिता लैब टेक्नीशियन अरुणेंद्र, गणेश, विवेक आदि लोग मौजूद रहे। मातृत्व के स्वास्थ्य के परामर्श दाता दीपक यादव ने बताया कि आज जिले में इस अभियान के तहत कुल 671 महिलाओं की प्रसव जांच की गई हैं जेल में पूरे जिले में 24 महिलाएं एचआरपी मिली है जिला महिला अस्पताल में 52 महिलाओं में 8 महिलाएं एचआरपी मिली है इन सभी महिलाओं की आशा बहुओं और एएनएम के माध्यम से प्रसव होने तक स्वास्थ्य विभाग निगरानी करेगा अगर किसी गर्भवती महिला को खून की कमी है।

गर्भधारण के बाद हाई ब्लड प्रेशर थायराइड और अधिक उम्र में गर्भधारण या वह शुगर से पीड़ित है इसके अलावा पूर्व में ऑपरेशन से डिलीवरी समेत 14 से अधिक ऐसे मामले हैं जिनकी वजह से हाइड्रिक्स प्रेगनेंसी होती है ऐसी महिलाओं को हाइड्रिक्स प्रेगनेंसी एचआरपी की श्रेणी में रखा जाता है।

Back to top button
E-Paper