इन चीजों को देखने वाले के खाते में चढ़ता महापाप, सीधे नर्क ले जाते यमराज

हम सभी चाहते हैं कि मरने के बाद हमें स्वर्ग नसीब हो और हमारी आत्मा को शान्ति मिले. स्वर्ग जाने के लिए हमें किसी भी पाप को करने से बचना चाहिए. वैसे तो हम कई बार पूरी कोशिश करते हैं कि किसी पाप के भागीदार नहीं बने. लेकिन कई बार ना चाहते हुए भी अनजाने में हम पाप के भागीदार बन जाते हैं. हमारी पुराणों में कई ऐसी चीजों का जिक्र हैं जिन्हें देखने मात्र से व्यक्ति पाप का भागीदार बन सकता हैं.

आज हम आपको पांच ऐसी चीजें बताएंगे जिन्हें देखने से आप सभी को बचना चाहिए. यदि आप अनजाने में या जान बूझ कर इन चीजों को देखते हैं या इनसे कोई नाता रखते हैं तो आपके ऊपर पाप चढ़ जाता हैं.

इन चीजों को देखने से बचे वरना लगेगा पाप

  1. भगवान की मूर्ति तोड़ते हुए देखना:

पुराणों के अनुसार हमें कभी भी किसी को भगवान की मूर्ति को तोड़ते हुए नहीं देखना चाहिए. जो व्यक्ति भगवान की मूर्ति तोड़ता हैं वो तो नर्क में जाता ही हैं लेकिन उसे देखने वाला व्यक्ति भी साथ में पाप का भागीदार बन जाता हैं. साथ ही इन मूर्ति तोड़ने वाले व्यक्ति से कोई नाता या संबंध भी नहीं रखना चाहिए वरना ये भी आपके लिए हानिकारक हो सकता हैं.

  1. ब्राह्मण को सूत का व्यापार करते हुए देखना:

शास्त्रों की माने तो जो ब्राह्मण सूत बेचने का कारोबार करता हैं वो नर्क में जाता हैं. साथ ही जो व्यक्ति इन सूत बेचने वाले ब्राह्मण या पंडित को अपने घर बुलाता हैं या पूजा पाठ करवाता हैं तो उसके सिर बहुत बड़ा पाप चढ़ जाता हैं.

  1. बच्चों और महिलाओं पर अत्याचार:

जो व्यक्ति किसी बच्चे या महिला के ऊपर हिंसा का प्रयोग करता हैं वो बहुत बड़े पाप का भागीदार बनता हैं. साथ ही जो व्यक्ति इस अत्याचार को होता चुपचाप देखता हैं और इसके खिलाफ कोई आवाज़ नहीं उठता हैं वो भी इस पाप का घड़ा अपने सर पर फोड़ लेता हैं.

  1. देवी देवताओं की निंदा:

वैसे तो किसी भी भगवान की बुराई करना सबसे घोर पाप माना जाता हैं. लेकिन यदि कोई व्यक्ति इन देवताओं की निंदा करने वाले व्यक्ति से कोई नाता रखता हैं या इन्हें निंदा करते हुए देखता हैं तो वो खुद भी इस बड़े पाप का भागीदार बन जाता हैं.

  1. पीपल का पेड़ कटते देखना:

हिन्दू मान्यताओं के अनुसार पीपल के पेड़ के अन्दर कई देवी देवता वास करते हैं. ऐसे में पीपल का पेड़ काटने वाला, उसे कटवाने वाला और उसे काटते हुए देखने वाला तीनो ही पाप के भागीदार बनते हैं.

Back to top button
E-Paper