इस महीने के आखिर में खत्म हो जाएगी फ्री गैस सिलेंडर पाने की वैद्यता , जल्द उठाये इस योजना का लाभ

भोपाल। पूरी दुनिया इस समय कोरोना महामारी से लड़ रही है। बीते कुछ दिनों पहले ही लॉकडाउन के बीच लोगों को ये राहत की खबर मिली थी कि घरेलू सिलेंडर के दाम 164 रुपए घटा दिए गए हैं। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में गैस का सिलेंडर लगभग 588 रुपए का मिल रहा है। एक मई से ही नई दरें लागू हो चुकी हैं। इन सबके बीच प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज (PMGKP) के तहत 34,800 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता दी है। सरकार की इस स्कीम के तहत 4.5 करोड़ उज्जवला लाभार्थियों को फ्री एलपीजी बांट रही है।

इस योजना के तहत 14.2 किलोग्राम वाले 3 एलपीजी सिलेंडर दिए जाएंगे। यह ऐलान मोदी सरकार ने 1.7 लाख करोड़ रुपये के पहले राहत पैकेज में किया था। यानी गरीबों को एक महीने में एक ही सिलेंडर मुफ्त में दिया जाएगा। वहीं जिनके पास 5 किलो वाले सिलेंडर हैं, उन्हें 3 महीने में कुल 8 सिलेंडर फ्री मिलेंगे। बता दें सरकार की इस स्कीम का लाभ केवल वही लोग फायदा दे सकते थे जो इस उज्ज्वला योजना के तहत रजिस्टर्ड हैं।

बता दें कि सरकार की इस स्कीम का फायदा लेने के लिए आपके पास अब केवल एक ही महिना बचा है। 3 महीने तक फ्री गैस सिलेंडर पाने का आखिरी महीना जून है। इस महीने के आखिर में यह खत्म हो जाएगी। ऐसे में अगर चाहें तो आपको भी इस योजना का लाभ मिल सकता है लेकिन इसके लिए आपको इन शर्तों पर खरा उतरना है।

इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपके पास पंचायत अधिकारी या नगर निगम पालिका अध्‍यक्ष द्वारा अधिकृत BPL कार्ड या बीपीएल राशन कार्ड हो। साथ ही फोटो आईडी में आधार कार्ड, वोटर आईडी होना चाहिए। साथ ही पासपोर्ट साइज की फोटो, राशन कार्ड की फोटोकॉपी, राजपत्रित अधिकारी (गैजेटेड अधिकारी) द्वारा सत्यापित स्व-घोषणा पत्र, LIC पालिसी, बैंक स्टेटमेंट और बीपीएल सूची में नाम का प्रिंट आउट होना जरूरी है।

कैसे करना है आवेदन

इस योजना का लाभ उठाने के लिए फार्म आप प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं या आप नजदीकी एलपीजी केंद्र से भी आवेदन फॉर्म ले सकते हैं। गैस कनेक्शन लेने के लिए बीपीएल परिवार की कोई महिला आवेदन कर सकती है। इसके लिए आपको केवाईसी फार्म भर कर नजदीकी एलपीजी केंद्र में जमा करना होगा।

भोपाल में हर दिन 12 हजार सिलेंडरों की खबत

मध्यप्रदेश की राजधानी में हर दिन 12 हजार घरेलू गैस के सिलेंडरों की खपत होती है। वहीं एक माह में करीब साढ़े तीन लाख से अधिक गैस सिलेंडर लग जाते हैं। इसमें तीन कंपनियों के सिलेंडर शामिल हैं। भोपाल में तीनों कंपनियों की 34 गैस एजेंसी हैं, जिसके जरिए शहर में गैस सप्लाई की जाती है। जबकि इन कंपनियों की मध्यप्रदेश में 578 एजेंसियां काम कर रही हैं।

Back to top button
E-Paper