एसबीआई में खोदी गई सुरंग का खुला राज, क्राइम शो देखकर बनाया था प्लानए

जयपुर,(ईएमएस)। एसबीआई में खोदी गई सुरंग का राज खुल गया है। बता दें ‎कि विद्याधर नगर थाना इलाके में बीते सप्ताह एसबीआई बैंक के स्ट्रांग रूम में घुसकर डकैती डालने के इरादे से खोदी गई सुरंग के मामले में पुलिस ने तीन कुख्यात बदमाशों को पकड़ने में सफलता हासिल की है। इनमें रिजवान उर्फ सोनू और सलीम उर्फ पप्पू के साथ ही फरारी काटने के लिए उनको पनाह देने वाले राशिद उर्फ इस्माइल को गिरफ्तार किया गया है। दोनों मुख्य आरोपियों को मुंबई की धारावी से पकड़ा है।

डीसीपी नॉर्थ राशि डोगरा डूडी ने बताया कि जयपुर के विधाधर नगर के अंबाबाड़ी इलाके में सुरंग खोदकर बैंक डकैती का प्रयास करने के मुख्य सूत्रधार 50 हजार के इनामी आरोपियों और फरारी के दौरान उनको आश्रय देने वाले सहयोगी को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने महज 10 दिन में इन आरोपियों को दबोचा है। दोनों आरोपी शातिर हैं। ये लोग फर्जी दस्तावेजों से आधार कार्ड बनवाकर जयपुर में रह रहे थे।

डीसीपी डोगरा ने बताया कि पहचान छिपाने के लिए बदमाशों ने अपने नीकनेम सोनू, मनोज, पप्पू, सलमान, भैइये आदि रख रखे थे। असली नाम से बदमाश आपस में बात भी नही करते थे। बदमाश इतने शातिर हैं कि गिरफ्तारी से बचने के लिए लगातार अपने पते और ठिकाने बदल रहे थे। वारदात के बाद ये लोग घर नहीं जाकर आगरा, दिल्ली, कोटा, उन्नाव, सूरत, बडौदरा, अहमदाबाद और मुंबई में धारावी कच्ची बस्ती में फरारी काटते रहे। ये बदमाश 3 मोबाइल फोन और विभिन्न कंपनियों के 10 सिम कार्ड के जरिए फोन कॉल करते थे। ये बीते 10 महीने से डकैती के प्लान बना रहे थे और उसके लिए सुरंग खोदने का काम कर रहे थे। इस मामले में अब तक रिजवान उर्फ सोनू, सलीम उर्फ पप्पू, राशिद हुसैन, अबरार हुसैन अंसारी उर्फ इस्माईल उर्फ हयात और मोहम्मद वसीम उर्फ भैया उर्फ सलमान को गिरफ्तार किया गया है, अन्य की तलाश की जा रही है।

Back to top button