कांग्रेस सरकार में किसानों का पूरा कर्ज होगा माफ : प्रियंका गांधी

बाराबंकी से कांग्रेस की तीन प्रतिज्ञा यात्राओं को दिखाई हरी झंडी

बाराबंकी(ईएमएस)। कांग्रेस की राष्‍ट्रीय महासचिव और उत्तरप्रदेश मामलों की प्रभारी प्रियंका गांधी वाद्रा ने शनिवार को बाराबंकी के हरख बाजार से कांग्रेस की तीन प्रतिज्ञा यात्राओं को हरी झंडी दिखाई और पार्टी की सरकार बनने पर किसानों का पूरा कर्ज माफ करने और 20 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी देने की प्रतिज्ञा दोहराई। उत्तरप्रदेश में अगले वर्ष की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले अपनी प्रतिज्ञाओं के जरिये प्रियंका गांधी वाद्रा ने महिलाओं, किसानों, बेरोजगारों, संविदा कर्मियों और कोरोना की मार से आर्थिक रूप से तबाह हुए परिवारों के लिए कई महत्वपूर्ण घोषणाएं की। प्रियंका ने बाराबंकी में कहा कांग्रेस चुनाव के दौरान टिकटों में महिलाओं को 40 प्रतिशत हिस्सेदारी देगी और लड़कियों को स्मार्ट फोन और स्कूटी देगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने पर किसानों का पूरा कर्जा माफ होगा, 2500 रुपये में गेहूं-धान (प्रति क्विंटल) की खरीद होगी और गन्ना किसान अपनी फसल के लिए 400 रुपये प्रति क्विंटल की दर से कीमत पाएगा।

उन्होंने कहा, ‘‘बिजली बिल सबका साफ हाफ, कोरोना काल का बकाया साफ होगा यानी हर व्यक्ति की बिजली का बिल आधा और कोरोना काल का बकाया माफ होगा।” उन्होंने कोरोना से प्रभावित परिवारों के लिए कहा, ‘‘दूर करेंगे कोरोना की आर्थिक मार, परिवार को देंगे 25 हजार।” प्रियंका ने 20 लाख लोगों को सरकारी रोजगार देने और संविदा पर कार्य करने वालों को नियमित करने की प्रतिज्ञा ली। उन्होंने कहा कि एक सप्ताह के भीतर महिलाओं के लिए अलग से घोषणा पत्र जारी किया जाएगा। कांग्रेस महासचिव ने कहा, ‘‘महिलाएं जब तक आगे नहीं बढ़ेगी और राजनीति में उनकी भागीदारी नहीं होगी तब तक समस्याओं का समाधान नहीं हो सकेगा।”

उन्होंने महिलाओं को आगे बढ़ने और राजनीति में आने की अपील करते हुए कहा, ‘‘कांग्रेस चाहती है कि महिलाएं आगे आएं और अपनी लड़ाई खुद लड़ें।” प्रियंका ने कहा, ‘‘जो 12वीं पास लड़कियां हैं सरकार आने पर स्मार्ट फोन और स्नातक पास को इलेक्ट्रिक स्कूटी दी जाएगी।” उन्होंने कहा कि यह तोहफा नहीं है वोट के लिए, यह माध्यम है जिससे आप सशक्त बन सकती हैं। किसानों की बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘किसान त्रस्त है, आपने देखा होगा कि लखीमपुर खीरी में मोदी जी के मंत्री के बेटे ने किस तरह क्रूरता से गाड़ी चढ़ाकर छह किसानों को मार डाला। यह एक ऐसा हादसा है जिससे पूरे देश को समझ में आ रहा है कि यह सरकार किसानों को कितनी अहमियत दे रही है।” कांग्रेस महासचिव ने कहा, ‘‘जिसने किसानों को कुचला उसको गिरफ्तार करने में कितनी देरी की और उसका पिता आज तक मोदी जी के मंत्रालय में हैं और उसकी बर्खास्तगी नहीं हुई। यह तो एक मिसाल है, किसान जानते हैं कि कुछ सालों से कितनी समस्याओं से जूझ रहे हैं। इसलिए हमने तय किया है कि किसानों के कर्जे माफ करेंगे।” उन्होंने यह भी कहा, ‘‘आप जानते हैं कि कांग्रेस पार्टी ने पहले 72 हजार करोड़ रुपये के कर्ज माफ किये थे। आप जिन समस्याओं से जूझ रहे हैं, आप सब जानते हैं। खाद महंगी, बिजली के बिल भरने पड़ते हैं बड़े बड़े, कर्ज में आप डूब रहे हैं।” प्रियंका ने कहा, ‘‘’जिस तरह छत्तीसगढ़ में हमारी सरकार 2500 में धान खरीद रही है, उसी तरह यहां 2500 रुपये में गेहूं और धान खरीदेंगे और चार सौ रुपये गन्ने का दाम मिलेगा। जब बिजली बिल की बात कर रहे हैं तो कोरोना काल के समय जो छोटे व्यापारी हैं उन्हें बिजली बिल भरने पड़े और कमाई नहीं हुई, इसलिए हमने निर्णय लिया है कि कोरोना काल में बिजली के बिल माफ करेंगे और सबका बिजली बिल हाफ होगा।” उन्होंने कहा कि इसके साथ-साथ कोरोना काल में गरीब परिवार जिन पर आर्थिक मार पड़ी उनको 25 हजार रुपये दिये जाएंगे। सरकारी रोजगार 20 लाख देना चाहते हैं। कांग्रेस महासचिव ने कहा, ‘‘खासतौर से कहना चाहती हूं कि पिछले दो साल में बहुत से संविदा कर्मियों से मिली और सबने अपनी समस्या बताई, सबका शोषण किया गया। उनका नियमितीकरण करने का हमने निर्णय लिया है।” उन्होंने कहा, ‘‘हमारी सरकार आएगी तो सबका नियमितीकरण करेंगे।”

यात्रा द्वारा हमारी प्रतिज्ञा गांव गांव तक पहुंचेगी। गौरतलब है कि इस कार्यक्रम का संचालन प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने किया। कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के प्रभारी पीएल पुनिया, कांग्रेस विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा समेत कई प्रमुख नेता मौजूद थे। बाराबंकी से शनिवार को शुरू हुई कांग्रेस की प्रतिज्ञा यात्रा बुंदेलखंड तक जाएगी।

Back to top button
E-Paper