कानपुर: धर्म छिपा FB पर फैशन डिजाइनर से की दोस्ती फिर किया रेप, गर्भवती होने पर छोड़ा

उत्तर प्रदेश के कानपुर में मोहम्‍मद आरिफ नाम के युवक ने ‘राजवीर केसर‍िया’ बनकर हिंदू युवती से पहले फेसबुक पर दोस्‍ती की। फिर शादी का झाँसा देकर उसका रेप किया। गर्भवती होने पर युवती ने जब युवक पर शादी का दबाव बनाया तो उसने इनकार करते हुए सारे रिश्ते तोड़ लिए। परेशान युवती ने युवक के घरवालों की तलाश की और उनसे मिली। इसके बाद उसे पता चला कि राजवीर केसर‍िया असल में मोहम्‍मद आरिफ है। युवक के इस झूठ का पता चलते ही युवती के होश उड़ गए। पीड़ि‍ता ने युवक के खि‍लाफ मुकदमा दर्ज करवाया है।

क्‍या है पूरा मामला? 

जानकारी के मुताबिक, नवाबगंज थाना क्षेत्र में रहने वाली युवती पेशे से फैशन डिजाइनर है। मोहम्‍मद आरिफ नाम के एक युवक ने राजवीर केसरिया नाम से फेसबुक आईडी बनाई और युवती से अपनी पहचान छ‍िपाकर दोस्‍ती की। युवक ने युवती की नौकरी लगवाने का लालच दिया था। बातचीत बढ़ती गई और दोनों के बीच प्रेम संबंध बन गए। 

युवक ने युवती को शादी का झाँसा देकर शारीरिक संबंध बनाए। इस बीच युवती गर्भवती हो गई। उसने यह बात प्रेमी राजवीर केसरिया को बताई और शादी का दबाव बनाने लगी। इसके बाद राजवीर ने उससे बातचीत बंद कर दी। पीड़िता ने युवक के परिजनों से संपर्क किया तो उसे पता चला कि उसका असली नाम राजवीर केसरिया नहीं, बल्कि मोहम्मद आरिफ है। वह लखनऊ नहीं, बल्कि रायबरेली का रहने वाला है। इसके बाद युवती ने पुलिस से शिकायत की बात कही तो आरिफ ने जान से मारने की धमकी भी दी।

पुलिस कर रही युवक की तलाश 

इस मामले में पीड़िता ने आरोपित प्रेमी आरिफ के खिलाफ नवाबगंज थाने में तहरीर दी है। पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर रेप, एससी/एसटी एक्ट की धाराओं में केस दर्ज किया है। थाना प्रभारी नवाबगंज देवेंद्र दुबे बताया कि पुलिस ने पीड़ित युवती की तहरीर पर राजवीर उर्फ मोहम्मद आरिफ के खिलाफ IPC की धारा 417, 376, 504, 506 और SC/ST एक्ट के तहत केस पंजीकृत करते हुए आरोपित को जेल भेज दिया है।

हालाँकि इस केस में एंटी लव जिहाद कानून नहीं लगाया गया है। प्रभारी का कहना है कि चूँकि दोनों एक-दूसरे को पहले से जानते थे, इसलिए यह मामला लव जिहाद का नहीं है। फिलहाल हर पहलू की जाँच चल रही है।

Back to top button
E-Paper