किन्नौर में भूस्खलन की चपेट में आने से नौ पर्यटकों की मौत, तीन घायल-देखे VIDEO

शिमला।   हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में सांगला-छितकुल राजमार्ग पर  एक टैम्पो ट्रेवलर के पहाड़ से हुये भूस्खलन की चपेट में आने से इसमें सवार कम से कम नौ पर्यटकों की मौत हो गई और तीन अन्य घायल हो गये। जिला पुलिस अधीक्षक एस.आर. राणा ने बताया कि हादसा पटसेरी क्षेत्र के गुंसा के निकट हुआ। बताया जाता है कि टैम्पो ट्रेवलर पर्यटकों काे लेकर छितकुल से सांगला की ओर जा रहा था कि अचानक पहाड़ी से चट्टान और मलबा इस पर आ गिरा। इस हादसे में आठ लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और एक घायल ने सांगला प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में दम तोड़ दिया। इस हादसे में तीन लोग घायल बताए गए है।
घटना की सूचना मिलते ही किन्नौर जिला उपायुक्त आबिद हुसैल सादिक मौके पर पहुंचे।

 

भूस्खलन के कारण गांव के लिए बास्पा नदी पर बना पुल भी पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया जिससे इस गांव का देश दुनिया से सम्पर्क कट गया है। भूस्खलन के कारण उस मार्ग से गुजर रहे अनेक वाहन भी क्षतिग्रस्त हुए हैं। पुलिस और प्रशासन राहत एवं बचाव कार्य में जुटा हुआ है। लेकिन पहाड़ से गिर रहे पत्थर इसमें बाधा बन रहे हैं। मृतकों की शिनाख्त प्रतीक्षा सुनील पाटिल, दीपा शर्मा, अमोछ बापत, चालक उमराव सिंह, कुमार उल्लहास बेद पाठक, अनुराग बियानी, माया देवी बियानी, रिचा बियानी और सतीश के रूप में की गई है। जबकि घायलों की शिनाख्त शारिल ओबराय, नवीन भारद्वाज और रणजीत सिंह के रूप में की गई है। मृतकों में कुछ लोग महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, जयपुर और दिल्ली के बताए गए हैं।

इस बीच, मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने इस घटना नौ लोगों की मौत होने पर गहरा दुख और शोक व्यक्त किया है। उन्होंने प्रशासन को तुरं राहत और बचाव कार्य सुनिश्चित करने तथा प्रभावितों को फौरी राहत प्रदान करने के निर्देश दिए। उन्होंने ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शांति और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की प्रार्थना की।

Back to top button
E-Paper