केरल में गर्भवती हथिनी की मौत से लोगों में फूटा गुस्सा, देखें प्रतिक्रियाएं

नई दिल्ली. केरल के मलप्पुरम में गर्भवती हथिनी की मौत की घटना पर राजनीति से लेकर उद्योग और खेल जगत तक के लोगों में गुस्सा है। केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा है कि ये बहुत बेरहमी है, भारतीय संस्कृति में ऐसा नहीं होता। दोषियों को पकड़ने के लिए हमने सीनियर अफसर तैनात कर दिए हैं। दोषियों को सजा दी जाएगी।

मेनका गांधी ने कहा- केरल में हर तीन में से एक हाथी मारा जाता है
मलप्पुरम में गर्भवती हथिनी को किसी ने पटाखों से भरा अनन्नास खिला दिया। इससे हथिनी का मुंह फट गया और मौत हो गई। मामले ने तूल पकड़ा तो केरल पुलिस ने बुधवार को अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवा दी। भाजपा सांसद मेनका गांधी ने कहा है कि हथिनी की हत्या की गई है, केरल में हर तीन में से एक हाथी मारा जाता है।

रतन टाटा ने कहा- ये हत्या जैसा मामला है
देश के कारोबार जगत में सबसे वरिष्ठ रतन टाटा ने ट्वीट कर हथिनी के साथ हुई हैवानियत को हत्या करार दिया। साथ ही इंसाफ की मांग की। उन्होंने लिखा- ‘यह जानकर हैरान हूं कि कुछ लोगों के पटाखों से भरे अनन्नास की वजह से हथिनी की मौत हो गई। निर्दोष जानवरों के प्रति आपराधिक रवैया ठीक वैसा है, जैसे किसी व्यक्ति की इरादतन हत्या। इंसाफ की दरकार है।’

विराट कोहली बोले- ऐसी कायरतापूर्ण हरकतें रुकनी चाहिए
भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने जानवरों से प्यार से पेश आने की अपील की है। कोहली ने कहा- ‘केरल की घटना के बारे में सुनकर निराश हूं। ऐसी कायरतापूर्ण हरकतें बंद होनी चाहिए।’ वहीं, फुटबॉलर सुनील छेत्री और तेज गेंदबाज उमेश यादव ने जानवरों के साथ हिंसा करने वालों को राक्षस बताया है। हरभजन सिंह ने कहा कि दोषियों को सजा मिलनी चाहिए।

सायना नेहवाल ने भी दुख जताया

Back to top button
E-Paper