कोरोना का कहर : इन जिलों में 10% से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट, केंद्र ने दिए ये निर्देश

नई दिल्ली:  कोरोना महामारी की संभावित तीसरी लहर के बीच देश के कई इलाकों में कोविड के दैनिक मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. देश के 46 जिलों में 10 प्रतिशत से अधिक सकारात्मकता दर देखने को मिल रही है. केंद्र ने देश मे 10% से ज्यादा कोरोना पॉजिटिविटी वाले जिलों में, भीड़ रोकने और लोगों के आपस में मिलने जुलने पर सख्त पाबंदी के निर्देश दिए हैं. केंद्र सरकार ने शनिवार को  10 राज्यों में COVID-19 की स्थिति की समीक्षा में पाया कि COVID मामलों में बढ़ोतरी और पॉजिटिविटी दिखाई दे रही है.

केरल, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, ओडिशा, असम, मिजोरम, मेघालय, आंध्र प्रदेश और मणिपुर ये 10 राज्य ऐसे हैं जहां मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिली है. इसके अलावा केंद्र की तरफ से राज्यों को कोरोना से निपटने के लिए कुछ खास निर्देश दिए गए हैं. जिसमें निर्धारित जिलों में कोरोना की चपेट में आसानी से आने वाले लोगों का पूरी तरह से टीकाकरण. वैक्सीन की दूसरी खुराक कवरेज को प्राथमिकता देने के निर्देश दिए गए हैं. संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए होम आइसोलेटेड लोगों की प्रभावी और नियमित निगरानी के साथ प्राइवेट अस्पतालों में ऑक्सीजन पीएसए प्लांट लगाने पर जोर दिया जा रहा है.

देश के 46 जिलों में 10 % से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट है. 53 जिले ऐसे हैं जहां पर पॉजिटिविटी रेट 5% से 10 % है. इन 10 राज्यों में 80% से ज्यादा सक्रिय मामले होम आइसोलेशन में हैं. इन मामलों पर प्रभावी ढंग से और सख्ती से निगरानी रखने की जरूरत है जिससे वो आपस में मिल कर अपने पड़ोस, समुदाय, गांव, मोहल्ला, वार्ड आदि में न घूमें और संक्रमण न फैलाएं.

Back to top button
E-Paper