कोरोना की तीसरी लहर का इस तरह यूपी करेगा मुकाबला, यहाँ लीजिये पूरी जानकारी

लखनऊ. Corona update in up – Uttar pradesh preparation for corona third wave. उत्तर प्रदेश में कोरोना (Coronavirus in UP) के खिलाफ सबसे कारगर हथियार माने जा रहे वैक्सीन को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। प्रदेश में अब तक 18 पार वाले सभी आयु वर्ग को मिलाकर कुल 1,11,63,988 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है, इनमें से 29,35,607 को दूसरी डोज दी जा चुकी है। प्रतिदिन यह संख्या बढ़ रही है, लेकिन योगी सरकार का लक्ष्य अक्टूबर तक 20 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाने का है। वजह कोविड की तीसरी लहर, जो सितंबर व अक्टूबर माह में प्रदेश व देश में दस्तक दे सकती है। इसमें सबसे चिंताजनक बिंदु यह है कि इस लहर में सबसे ज्यादा बच्चे निशाने पर रहेंगे। केंद्र द्वारा इसकी चेतावनी जारी का जा चुकी है। इसके मद्देनजर वैक्सीनेशन के काम में और तेजी लाने की जरूरत है। सिर्फ शहर ही नहीं, ग्रामों तक इसे पहुंचाने की जरूरत है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इसको लेकर कमर कस चुके हैं। टीम-9 के साथ वह लगातार इस पर चर्चा कर रहे हैं। 

अब तक एक करोड़ से ज्यादा को लगी वैक्सीन-
वर्तमान में प्रदेश में वैक्सीनेशन के अभियान की बात करें, तो फिलहाल 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण सभी 75 जिलों में हो रहा है। वहीं 18 जनपदों में 18-44 आयु वर्ग वालों का वैक्सीनेशन कार्य चल रहा है। प्रदेश में कुल 6367 वैक्सीनेशन सेंटर्स हैं, इनमें से 158 प्राइवेट हैं, जहां अब तक पहली व दूसरी वैक्सीन मिलाकर कुल 14289732 डोज़ दी जा चुकी हैं। प्रदेश में कोविशील्ड व कोवैक्सीन दोनों ही इस्तेमाल की जा रही है। अधिकतर लोगों को कोविशील्ड दी गई है, मतलब बुधवार तक कुल 12689556 डोज दी गई है। वहीं को-वैक्सीन की 1600176 डोज दी जा चुकी है। 

किन आयु वर्ग वालों को लगी कितनी डोज-
सबसे अधिक वैक्सीन 45-60 आयु वर्ग के लोगों को दी गई है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार, इस आयु वर्ग के लोगों को 5218188 वैक्सीन दी गई है। दूसरे स्थान पर हैं 60 साल से ऊपर के बुजुर्ग जिन्हें 4541668 डोज दी गई हैं। 976117 डोज 30-44 आयु वर्ग के लोगों को दी गई हैं। वहीं 18-30 उम्र वालों के लिए 545577 डोज का इस्तेमाल किया जा चुका है। कोरोना वैक्सीनेशन कार्य को और तेज किया जा रहा है। मुख्यमंत्री का लक्ष्य है कि अक्टूबर तक प्रदेश की अधिकतर आबादी को वैक्सीनेशन की डोज लग जाए, जिससे तीसरी लहर का सामना आसानी से हो सके। 18 जनपदों से बढ़कर कुछ ही दिनों में सभी 75 जिलों में 18 से 44 आयु वर्ग के सभी लोगों का वैक्सीनेशन होगा। इसकी कार्ययोजना बनाई गई है। 

क्या हो रही है तैयारी-
दूसरी लहर में जो हुआ, उसकी पुर्नावृत्ति तीसरी लहर में न हो, इसके लिए सीएम योगी ठोस तैयारी करने में जुटे हैं। मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर को प्रदेश के सभी 75 जिलों में मजबूत करने पर ध्यान दिया जा रहा है। कोविड अस्पताल में बेड, उपकरण, वेंटिलेटर, टेस्टिंग लैब, जरूरी दवाइयां, पैरा मेडिकल स्टाफ को बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है। इसके साथ ही हर जिला चिकित्सालय में 10 बेड व हर मेडिकल काॅलेज में न्यूनतम 25 बेड का पेडियेट्रिक आईसीयू (पीकू) को बनाने के काम ने तेजी पकड़ ली है। पीडियाट्रिशियन्स को प्रशिक्षण भी देने की तैयारी की जा रही है।

बच्चों के लिए विशेष तैयारी-
कोरोना की तीसरी लहर का असर बच्चों पर कैसा होगा, इसका फिलहाल आंकलन नहीं किया जा सकता, लेकिन योगी सरकार यह सुनिश्चित कर रही है कि मेडिकल सुविधाओं की कमी बच्चों को सुरक्षित रखने में आड़े न आए। यूपी के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप ने भी बताया कि बच्चों के लिए स्वास्थ्य सेवाओं से संबंधित आधारभूत इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास किया जा रहा है। जिला स्तर पर आईसीयू बेड व अन्य इंतजाम भी किए जा रहे हैं।

यूपी में वैक्सीनेशन के आंकड़े-

कुल वैक्सीनेशन- 14289732
पहली डोज – 11284742
दूसरी डोज- 3004990

आयु वर्ग- वैक्सीन संख्या
18-30- 545577
30-45- 976117
45-60- 5218188
60 से ऊपर- 4541668

वैक्सीनेशन सेंटर्स- 6367
सरकारी- 6209
प्राइवेट- 158

आयु वर्ग- वैक्सीन संख्या
18-30- 545577

30-45- 976117

45-60- 5218188

60- 4541668

कोविशील्ड- 12689556
कोवैक्सीन- 1600176

Back to top button
E-Paper