कोरोना के उच्चतम स्तर से सक्रिय मामलों में 58.6 प्रतिशत की आई गिरावट

मरीजों की ठीक होने की रिकवरी दर बढ़कर हुई 92.47 प्रतिशत-बीते चौबीस घंटे में संक्रमण के 2,298 नये मामले, 3,025 मरीज हुए डिस्चार्ज

लखनऊ। प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या अब घटकर 28,268 हो गई है। कोरोना के 17 सितम्बर को आए अभी तक के उच्चतम स्तर से वर्तमान में 39,967 एक्टिव मामलों में कमी आयी है। ये चरम स्तर से 58.6 प्रतिशत कम है। हालांकि अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद के मुताबिक पहले कोरोना के ज्यादातर मामले शहरी क्षेत्र से सामने आ रहे थे। लेकिन, अब कुछ मामले ग्रामीण क्षेत्र से भी देखे जा रहे हैं। इसलिए सावधानी की ज्यादा जरूरत है। खासतौर से त्योहार के मौकों पर लोगों का मिलना जुलना बढ़ने की सम्भावना के निगरानी समितियों को और सक्रिय होकर कार्य करना होगा।

अब तक 4.30 लाख मरीज इलाज के बाद हो चुके हैं स्वस्थ
अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने शुक्रवार को बताया कि बीते चौबीस घंटे में संक्रमण के 2,298 नये मामले सामने आए हैं। इसी दौरान 3,025 मरीज उपचारित होकर डिस्चार्ज हुए है। इसके साथ ही राज्य में अब तक कुल 4,30,962 मरीज इलाज के बाद पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। मरीजों के तेजी से ठीक होने की वजह से रिकवरी दर अब 92.47 प्रतिशत हो गई है। वहीं संक्रमण के बाद अब तक कुल 6,830 मरीजों की मौत हुई है। बीते चौबीस घंटे में 40 लोगों ने दम तोड़ा है।

कुल 2.48 लाख मरीज होम आइसोलेशन में हुए स्वस्थ
उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्तमान में 2,418 मरीज निजी अस्पतालों व शेष राज्य सरकार की एल-1, एल-2 व एल-3 की व्यवस्था के तहत सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं। अब तक 2,61,520 मरीजों ने होम आइसोलेशन की सुविधा का विकल्प लिया है, जिनमें से 2,48,592 मरीजों के इलाज का समय पूरा होने के बाद उन्हें डिस्चार्ज घोषित कर दिया गया है।

13.61 करोड़ लोगों के बीच पहुंची स्वास्थ्य टीमें
स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगातार विभिन्न क्षेत्रों में लोगों के बीच पहुंचकर सर्वेश्रण कर रही हैं। अभी तक 1,46,015 लाख से अधिक इलाकों में 4,30,880 टीम दिवस में 2,76,55,197 करोड़ घरों का सर्वेक्षण किया है। इसके तहत 13,61,76,130 करोड़ से अधिक लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग की गई है।

1,717 लोगों ने एक दिन में किया ई-संजीवनी का प्रयोग

इसके साथ ही ई-संजीवनी पोर्टल का प्रदेश के लोग लगातार इस्तमाल कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश में इस पोर्टल का सबसे ज्यादा दैनिक उपयोग किया जा रहा है। इस पोर्टल से घर बैठे डॉक्टरों से सलाह ले सकते हैं। गुरुवार को 1,717 लोगों ने इस सुविधा का लाभ उठाया। अब तक कुल 1,58,463 लोग इस पोर्टल के जरिए चिकित्सीय लाभ ले चुके हैं।

कोविड हेल्प डेस्क से 9.20 लाख लक्षणात्मक लोगों की हुई पहचान
प्रदेश में कुल 65,370 ‘कोविड हेल्प डेस्क’ की स्थापना की जा चुकी है। इनके जरिए 9,20,370 लक्षणात्मक लोगों की पहचान की गई। इनमें ऑक्सीमीटर और थर्मामीटर उपलब्ध हैं। इन सभी इकाइयों में सैनिटाइजर की पर्याप्त उपलब्धता की गई है।

Back to top button
E-Paper