गरुण पुराण: जिन महिलाओं में होते हैं ये गुण, पति के लिए होती हैं बेहद भाग्यशाली

हमारे धार्मिक ग्रंथों और पुराणों में ऐसी बहुत सी बातों का जिक्र किया गया है जो मनुष्य के जीवन से संबंध रखती है, हर मनुष्य के व्यक्तित्व और उसके जीवन से जुड़ी हुई बहुत सी बातें शास्त्रों में बताई गई है, स्त्रियों के संबंध में भी बहुत सी बातों का व्याख्या किया गया है, जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं हिंदू धर्म में पति पत्नी का रिश्ता बहुत ही पवित्र माना गया है, यह दोनों एक दूसरे के बिल्कुल पूरक होते हैं, अगर हम पत्नी शब्द का मतलब जाने तो इसका अर्थ होता है कि पति का आधा अंग, इसलिए पत्नी को अर्धांगिनी के नाम से भी जाना जाता है, एक महिला ही पूरे घर की देखभाल करती है और सभी चीजें व्यवस्थित ढंग से करती हैं।

पत्नियों के गुणों और उसके व्यवहार के बारे में शास्त्रों में विस्तार पूर्वक उल्लेख किया गया है, स्त्री से ही हमारे वंश की बढ़ोतरी होती है और स्त्री ही हमारे घर में सुख शांति का माहौल बनाती है, आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से गरुड़ पुराण के अनुसार पत्नियों के ऐसे कुछ गुण बताने वाले हैं अगर यह गुण किसी महिला के अंदर मौजूद है तो वह बहुत ही भाग्यशाली मानी गई है, इस तरह की महिला जिस घर में जाती है उस घर के अंदर माता लक्ष्मी जी का वास रहता है, इस तरह की महिलाएं घर परिवार के लिए बहुत ही भाग्यशाली मानी गई है।

आइए जानते हैं महिलाओं के इन गुणों के बारे में
महिलाओं के अंदर सारे ग्रहों को संचालन करने का गुण आना चाहिए, किस प्रकार से घर को चलाना है, किस प्रकार से सब कुछ व्यवस्थित करना है और अपनी जिम्मेदारियों को समझना महिलाओं का विशेष गुण माना जाता है, अगर यह गुण किसी महिला में है तो वह घर को स्वर्ग बना सकती है, इसके अलावा महिलाओं को घर में आए मेहमानों का आदर सत्कार भी करना आना चाहिए।
जिस घर की महिला अपने पति के आदेश का पालन करती है, उस घर में हमेशा खुशहाली बनी रहती है, अगर महिला घर के किसी भी व्यक्ति का आदेश नहीं मानती है और घर परिवार के लोगों से बहस बाजी करती है, इसकी वजह से घर में परेशानी उत्पन्न होती है, इसलिए जो महिलाएं सिर्फ अपने घर परिवार के बारे में सोचती है और अपने पति से प्रेम करती है वह महिला घर परिवार के लिए बहुत ही शुभ मानी गई हैं।
जो महिलाएं रोजाना नियमित रूप से पूजा पाठ करती हैं स्नान करने के बाद ही भोजन बनाती है या परोसती है, उनके यह गुण उनको गुणवान बनाते हैं।
गरुड़ पुराण के अनुसार जो महिलाएं हमेशा धर्म का पालन करती है, वह महिला बहुत गुणी मानी गई है, जिस महिला की बोली मीठी होती है और वह कभी भी किसी के साथ बातचीत करते समय गलत शब्दों का इस्तेमाल नहीं करती है और ना ही अपने घर परिवार और पति को दुख देती है, ऐसी महिला घर के लिए बहुत ही भाग्यवान साबित होती है, ऐसी महिलाएं जिस घर में जाती है उस घर परिवार के लोगों का भाग्य खुल जाता है, और घर में कभी भी पैसों की कमी नहीं रहती है, ऐसे घरों के अंदर सभी लोग आपस में प्रेम पूर्वक रहते हैं।

Back to top button
E-Paper