गाय माता का अनोखा बदला, बछड़े के हत्यारे को 4 साल से दे रही सज़ा, Video दिल पिघला देगा

दुनिया में सबसे खूबसूरत रिश्ता मां और बच्चे का होता है फिर चाहे वह इंसान का हो या जानवरों का. इंसान की तरह जानवर भी अपने बच्चे से बहुत प्यार करते हैं. सिर्फ इंसान ही नहीं जानवर भी इस महत्वपूर्ण रिश्ते की अहमियत को समझते हैं. उनके इस प्यार को आप लोगों ने भी अपने आस-पास कई बार देखा या महसूस किया होगा. हम आपको आज कर्नाटक की एक ऐसी घटना बताने जा रहे हैं जिसे सुनकर आपका दिल यकीनन पिघल जाएगा.

कर्नाटक के सिरसी में गाय का एक बछड़ा 4 साल पहले एक बस के नीचे आ गया था. बस के नीचे आने से उसकी मौत हो गयी थी. यह दर्दनाक घटना होने के बाद बछड़े की मां बहुत देर तक वहीँ खड़ी रही और उसे उठाने की कोशिश करती रही. लेकिन बछड़ा मर चुका था और गाय की लाख कोशिश करने के बाद भी वह नहीं उठा. लोग इस घटना को भूल गए थे. लेकिन एक मां अपने बच्चे की मौत को कभी नहीं भूल सकती. मां तो आखिर मां होती है, वह भला कैसे अपने बच्चे को भूल जाए. इस बात को 4 साल बीत गए हैं और सब यह हादसा भूल भी चुके हैं. पर इस गाय ने 4 साल के बाद भी बस और उसके ड्राईवर को माफ़ नहीं किया है. इस गाय को जहां भी ये बस दिख जाती है वह उसे रोकने के लिए पहुंच जाती है.

हम आपको बता दें कि घटना के बाद गाय रोज़ाना सिर्फ उसी बस और ड्राईवर को रोकने की कोशिश करती है. वहां पर मौजूद सैकड़ों लोग इस बात के गवाह बनते हैं. जब भी यह रोडवेज़ बस वहां से गुज़रती है अक्सर वह गाय बस के सामने आ जाती है और उसे रोकने की कोशिश करती है. गाय के वहां से ना हटने पर मजबूरी में उसे डंडा मार के हटाना पड़ता है. मार खाने के बावजूद भी गाय बस का पीछा नहीं छोडती और इसके पीछे भागती है. इस बात को ड्राईवर ने भी सच माना है. रोज़ के वाक्ये से तंग आकर बस के मालिक ने इस पर नया पेंट भी करवा दिया था पर फिर भी गाय उसे पहचान गयी. गाय आज भी उसी जगह बैठती है जहां पर उसका मासूम बच्चा बस के नीचे आ गया था.

जानवर जो कुछ बोल नहीं सकते अपनी व्यथा को बखूबी दिखा देते हैं और हम ‘इंसान’ इतने विकसित होने के बावजूद एक-दूसरे की भावनाओं को समझ नहीं पाते. बच्चे के प्रति मां के इस जज़्बात को हम सलाम करते हैं!

Back to top button
E-Paper