चाणक्य नीति : चाहते है हमेशा भरी रहे आपकी तिजोरी, तो इन 3 जगहों पर दिल खोलकर करें दान

महान अर्थशाष्त्री और विचारक आचार्य चाणक्य द्वारा कही गई और बताई गई बातें आज भी लोगों के कफी काम आती है। दैनिक जीवन में काम आने वाली हर छोटी बड़ी चीज के बारे में आचार्य चाणक्य ने विस्तार से बताया है। आचार्य चाणक्य द्वारा सदियों पहले बताई गई बातें आज भी काफी प्रासंगिक है। वे चन्द्रगुप्त मौर्य के महामंत्री के रुप में भी विख्यात थे। उन्होंने जीवन के हर क्षेत्र को लेकर कुछ न कुछ कहा है।

ऐसे ही उन्होंने यह भी बताया है कि हम किस तरह से अपने धन में बढ़ोतरी कर सकते है। उन्होंने तीन ऐसे काम बताए है जिससे हमारे धन में इजाफ होता है। आचार्य चाणक्य ने अपनी काव्य रचना नीति श्लोक में धन का वर्णन किया है। इसके 43वें श्लोक में आपको आपके सवाल का जवाब मिल जाएगा।

श्लोक इस प्रकार है

दानं भोगो नाशस्तिस्रो गतयः भवन्ति वित्तस्य ।

यो न ददाति न भुङ्क्ते तस्य तृतीया गतिर्भवति॥

आचार्य चाणक्य द्वारा बताए गए इस श्लोक का अर्थ है कि, ”धन की तीन गतियां हैं जो क्रमशः दान, भोग और नाश हैं”।

अपने धन का करें दान, धार्मिक कार्यों और अनुष्ठानों में न हटे पीछे

आचार्य चाणक्य ने इस श्लोक में कहा है कि हमें अपने धन के एक हिस्से का दान जरुर करना चाहिए। आचार्य चाणक्य की माने तो धार्मिक कार्यों और अनुष्ठानों में दान अवश्य करना चाहिए। ऐसे कार्यों में कभी भी पीछे न हटे। ऐसा करने से हमारे धन में बढ़ोतरी अवश्य होती है। बताया जाता है कि दान आदि कार्यों से देवी देवता भी प्रसन्न होते है।

सामाजिक कार्यों में भी दान करें कमाई का हिस्सा

हमें अपनी कमाई का एक हिस्सा सामजिक कार्यों में भी दान करना चाहिए। इससे भी हमारे धन में बढ़ोतरी होती है। साथ ही हमारे मान सम्मान में भी इजाफा होता है। गौरतलब है कि दान कभी भी व्यर्थ नहीं जाता है। चाहे दान सामाजिक हो या फिर धार्मिक कार्य से संबंधित हो।

जरुरतमंदों की जरूर करें मदद

कहा जाता है कि अगर हम किसी की मदद करते है तो भगवान खुद हमारी मदद करता है। आचार्य चाणक्य ने भी इस तरह की बात कही है।

विष्णुगुप्त नाम से भी पहचान रखने वाले विद्वान आचार्य चाणक्य ने बताया है कि सुख, शांति और समृद्धि पाने के लिए जरुरतमंदों की मदद फायदेमंद साबित होती है। आप जरूरतमंद लोगों को अन्न दान, वस्त्र दान आदि कर सकते हैं। जरुरतमंदों की मदद करने से आपके धन में भी वृद्धि निश्चित ही होगी।

Back to top button